ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
यूपी में उपचुनाव से ठीक पहले बीजेपी का बड़ा दांव, इन जिलों में 24 घंटे बिजली देने के फरमान
September 21, 2020 • परिवर्तन चक्र • उत्तर प्रदेश

लखनऊ। प्रदेश के 8 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव से पहले बीजेपी-संगठन के साथ सरकार ने भी तैयारी कर ली है। सीएम योगी आदित्यनाथ इसके लिए काफी सख्त है। जानकारी के मुताबिक बुलंदशहर, फिरोजाबाद, अमरोहा, रामपुर, उन्नाव, कानपुर, देवरिया, जौनपुर में 24 घंटे बिजली आपूर्ति के निर्देश जारी किए गए है।

जिन 8 सीटों पर उपचुनाव होने हैं, उनमें से दो सीटें ऐसी हैं, जहां अब तक बीजेपी का कमल नहीं खिला है। रामपुर की स्वार सीट और जौनपुर की मल्हनी सीट पर आज तक बीजेपी नहीं जीत पाई है। रामपुर की स्वार सीट से सपा सांसद आजम खान के बेटे अब्दुल्लाह आजम विधायक बने थे, लेकिन बर्थ सर्टिफिकेट फर्जीवाड़े में इलाहबाद हाई कोर्ट ने उनकी सदस्यता समाप्त कर दी थी। वहीं, जौनपुर की मल्हनी सीट 2012 में अस्तित्व में आई। इस सीट पर अब तक दो बार चुनाव हुए हैं और दोनों ही बार सपा का परचम लहराया। यह सीट सपा विधायक पारसनाथ यादव के निधन से खाली हुई है। अब इन दोनों ही सीटों पर जीत के लिए बीजेपी ने चुनावी मंथन शुरू कर दिया है।

दरअसल, वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव से पहले उपचुनाव को सेमिफाइनल के तौर पर देखा जा रहा है। बीजेपी के सामने न सिर्फ 2017 में जीती विधानसभा सीटों पर अपना कब्ज़ा बनाए रखने की चुनौती है, बल्कि सपा के कब्जे वाली स्वार और मल्हनी को भी जीतकर लोकप्रियता में बढ़ोतरी का सन्देश देना चाहती है। उधर, सपा की बात करें तो स्वार और मल्हनी में अपना कब्जा बरकरार रखते हुए बीजेपी के कब्जे वाली कुछ सीटों को भी अपनी झोली में डालकर अखिलेश यादव की लोकप्रियता दिन-प्रतिदिन बढ़ने के दावे को साबित करना है।