ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
यूपी : डिप्टी सीएम का बेटा बनकर मंत्री से मांगी नौकरी, 2 आरोपी गिरफ्तार
August 8, 2020 • परिवर्तन चक्र

आरोपी खुद को उप मुख्यमंत्री का बेटा बताकर योगी सरकार में मंत्री अतुल गर्ग से नौकरी मांग रहा था. फिलहाल लखनऊ पुलिस ने मुख्य आरोपी और उसके साथी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

लखनऊ। यूपी में रोजगार को लेकर ठगी के कई तरह के मामले सामने आ रहे हैं. शुक्रवार को पुलिस ने ऐसे ही मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आरोपी खुद को उप मुख्यमंत्री का बेटा बताकर योगी सरकार में मंत्री अतुल गर्ग से नौकरी मांग रहा था. फिलहाल लखनऊ पुलिस ने मुख्य आरोपी और उसके साथी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

अतुल गर्ग ने दर्ज कराई थी शिकायत

दरअसल, मामला 30 जुलाई का है. राज्यमंत्री अतुल गर्ग के पास एक युवक का फोन आया था. युवक खुद को डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का बेटा बता रहा था. आरोपी अतुल गर्ग से संविदा पर नौकरी मांग रहा था. मंत्री अतुल गर्ग को इस पर शक हुआ. अतुल गर्ग के निजी सचिव ललित दिवाकर ने हजरतगंज कोतवाली में एक मोबाइल नंबर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी.

दो आरोपी गिरफ्तार

हजरतगंज पुलिस ने दिए गए नंबर की जांच शुरू की. कॉल डिटेल खंगाली गई तो पता चला मोबाइल नंबर एटा के रहने वाले सुशील कुमार का था. इस नंबर से सुशील कुमार ने मंत्री अतुल गर्ग को पहले संविदा पर नौकरी देने की गुजारिश की. उसके बाद अपना नाम व पता लिखाने के लिए व्हाट्सएप का भी इस्तेमाल किया.

सुशील कुमार ने ही अपना परिचय प्रदेश के उपमुख्यमंत्री के बेटे के तौर पर दिया था. पुलिस ने मंत्री को किए गए कॉल और भेजे गए व्हाट्सएप के आधार पर मुख्य आरोपी सुशील कुमार और उसके साथी राजेश कुमार को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने आरोपी के पास से मोबाइल बरामद कर लिया है. दोोनं आरोपियों को फिलहाल जेल भेज दिया गया है.