ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
यूपी : भाजपा विधायक की गाड़ी पर फायरिंग, मुकदमा दर्ज, कई युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ
November 17, 2020 • परिवर्तन चक्र

सलेमपुर से शिवाकांत तिवारी की रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश के देवरिया में सलेमपुर से भाजपा विधायक काली प्रसाद की स्कॉर्पियो गाड़ी पर फायरिंग की गई है. हालांकि, इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है.

उत्तर प्रदेश के देवरिया में सलेमपुर से भाजपा विधायक काली प्रसाद की स्कार्पियो गाड़ी पर फायरिंग की गई है. हालॉकि इस घटना में किसी को क्षति नहीं पहुची है. गाड़ी में विधायक समेत सवार सभी लोग सुरक्षित हैं. इस घटना में स्कॉर्पियो के पिछले हिस्से का शीशा टूट गया गया है. घटना की जानकारी मिलते ही एसपी समेत सभी आलाधिकारी आनन-फानन में मौके पर पहुंचे.

फिलहाल पुलिस ने देर रात से लगभग एक दर्जन युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. एसपी ने बताया कि इसमें विधायक की तहरीर के आधार पर कार्रवाई की जा रही है. यह घटना सलेमपुर कोतवाली के परान छपरा गांव के पास हुई है. गौरतलब है कि सलेमपुर से भाजपा विधायक काली प्रसाद चकरवा बहोर से रविन्द्र श्रीवास्तव के घर से दीपावली की शुभकामनाएं देकर वापस लौट रहे थे. रात के करीब आठ बज रहे थे कि परान छपरा के पास लक्ष्मी प्रतिमा का विसर्जन करने एक जुलूस जा रहा था. एक ट्रैक्टर और उसमे दो ट्राली पीछे जुड़ी थी. दो नर्तकी डांस कर रही थी, एक युवक फायर कर रहा था.

विधायक ने कहा कि पहले तो वे काफी देर तक वह पीछे चलते रहे और जब आगे हुए तो उन्हें लगा कि किसी ने पीछे से फायर कर दी. संयोग था कि वह किनारे बैठे थे और उनका भतीजा भी किनारे था. इसलिए बच गये. विधायक ने बताया कि किसी से उनकी कोई रंजिश नहीं है.

विधायक पर पहले भी हुआ था हमला आपको : बता दें कि विधायक काली प्रसाद के ऊपर लार इलाके के मटियारा जगदीश गांव में भी कुछ लोगों ने कुछ वर्ष पूर्व हमला किया था. जिसमें विधायक की तहरीर पर मुकदमा लिखा गया था. विधायक के ऊपर हमले की खबर से भाजपा कार्यकर्ताओं व समर्थकों में पुलिस के खिलाफ जबरदस्त आक्रोश है. भाजपा नेता व मण्डल प्रभारी अशोक कुमार ने इस घटना पर आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि देवरिया पुलिस का खौफ खत्म हो गया है अपराधी मस्त हैं जल्द से जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी होनी चाहिए.

दीपावली की शुभकामनाएं देने गए थे विधायक काली प्रसाद ने कहा कि मैं चक्रवा बहोर श्री रविंद्र श्रीवास्तव जी के यहां दीपावली की शुभकामनाएं देने गया था. इसके बाद मैं घर से आ रहा था. जब चकरवा बहोर मैंने क्रॉस किया तो देखा कि कुछ लोग मेरे आगे मूर्ति लेकर जा रहे थे. एक ट्रैक्टर था, उसमें दो ट्राली जुड़ा हुआ था. दो नर्तकी उस पर नाच रही थी. नीचे नौजवान लड़के थे, वह सभी नाच रहे थे. मैं उन सब के पीछे-पीछे 15 से 16 मिनट तक चला इस बीच मैंने देखा कि एक नौजवान असलहा लेकर नाल दिखाई दे रहा था. फायर कर रहा था, दो बार फायर करते देखा.

जब मैंने गांड़ी को आगे किया तो बहुत तेज आवाज हुई. जब पीछे देखा मेरे सिर पर कुछ टुकड़ा आकर लगा, तुरंत पीछे मुड़ कर देखा तो मेरी गाड़ी के शीशे में छेद हो गया. मेरा भतीजा पीछे बैठा था. संजोग था कि बीचो-बीच लगा था एक किनारें मैं बैठा था और दूसरी तरफ मेरा भतीजा किसी को चोट नहीं लगी है. कोई हमारा दुश्मन नहीं है किसने किया मैंने देखा नहीं लेकिन एक नौजवान था जिसने दो बार फायरिंग की.

स्थानीय भाजपा नेता मण्डल प्रभारी अशोक कुमार ने कहा कि आज जो घटना घटी है, इससे लगता है कि देवरिया जिले में पुलिस का डर खत्म हो गया है और अपराधी खुलेआम मस्त घूम रहे हैं. लगता है क्या सोची समझी राजनीति है सरकार को बदनाम करने की. मैं सरकार से मांग करता हूं कि जो भी लोग इसमें शामिल हैं उनकी तुरंत गिरफ्तारी की जाये.