ALL ताजा खबरें राष्ट्रीय समाचार परिवर्तन चक्र स्पेशल शिक्षा समाचार दुनिया समाचार क्रिकेट समाचार मनोरंजन समाचार पॉलिटिक्स समाचार क्राइम समाचार साहित्य संग्रह
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा-अगले हफ्ते 1 करोड़ तक पहुंच सकता है कोरोना केस का आंकड़ा
June 25, 2020 • परिवर्तन चक्र

विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेडरॉस अधनॉम ने कहा कि अगले हफ्ते तक कोरोना के एक करोड़ मामले हो सकते हैं. यह पूरी दुनिया के लिए एक आगाह (रिमाइंडर) करने वाली बात है. कोरोना की वैक्सीन और दवाओं पर रिसर्च चल रहा है, यह अच्छी बात है लेकिन हमें इस पर भी विचार करना चाहिए कि जितनी जल्द हो सके इस बीमारी के संक्रमण को कैसे रोक सकते हैं और लोगों की जिंदगियां बचा सकते हैं.

कोरोना टेस्टिंग के लिए ब्रिटेन सरकार की तारीफ

कई अमेरिकी देशों में संक्रमण की दर में है तेजी

विश्व स्वास्थ्य संगठन  ने अनुमान जताया है कि अगले हफ्ते तक दुनिया में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का आंकड़ा एक करोड़ तक जा सकता है. संगठन का यह भी कहना है कि इस मामले में ब्रिटेन का टेस्ट सिस्टम सक्षम है जो मरीजों की सही जांच कर सकता है.

इस आंकड़े के बारे में विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेडरॉस अधनॉम ने कहा कि अगले हफ्ते तक कोरोना के एक करोड़ मामले हो सकते हैं. यह पूरी दुनिया के लिए एक आगाह (रिमाइंडर) करने वाली बात है. कोरोना की वैक्सीन और दवाओं पर रिसर्च जारी है, यह अच्छी बात है लेकिन हमें इस पर भी विचार करना चाहिए कि जितनी जल्द हो सके इस बीमारी के संक्रमण को कैसे रोक सकते हैं और लोगों की जिंदगियां बचा सकते हैं.

हज पर प्रतिबंध

हज पर प्रतिबंध लगाने के बारे में विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक ने कहा कि यह फैसला जोखिम और खतरे को देखते हुए लिया गया. विश्व स्वास्थ्य संगठन के दिशा-निर्देश पर ही ऐसा निर्णय हुआ ताकि यात्रा पर जाने वाले लोगों की जिंदगी बचाई जा सके और संक्रमण को भी रोका जा सके. संगठन इस फैसले का समर्थन करता है. टेडरॉस अधमॉन ने कहा कि हमें मालूम है कि यह फैसला इतना आसान नहीं था. हमें यह भी पता है कि उन हज यात्रियों को अच्छा नहीं लगा होगा जो इस साल वहां जाने की तैयारी कर रहे हैं.

अमेरिका में संक्रमण तेज

अमेरिका के बारे में अधमॉन ने कहा कि वहां संक्रमण काफी तेज है, खासकर मध्य और दक्षिण अमेरिका में. चौंकाने वाली बात यह है कि वहां के कई देशों में ऐसा ट्रेंड देखा जा रहा है जहां पिछले एक हफ्ते में 25 और 50 फीसदी तक संक्रमण में तेजी आई है. इसलिए मध्य और दक्षिण अमेरिका के कई देश कम्युनिटी ट्रांसमिशन के खतरे से जूझ रहे हैं. ब्रिटेन की तारीफ करते हुए अधमॉन ने कहा कि वे चरणबद्ध तरीके से कदम आगे बढ़ा रहे हैं और विज्ञान की बात मान रहे हैं. लगभग दुनिया की हर सरकारों की कुछ खामियां हैं लेकिन ब्रिटेन का तरीका सही है. इसलिए हम कह सकते हैं कि वहां की निगरानी व्यवस्था अन्य जगहों पर भी मदद दे सकती है.

कहां कितने मरीज

बता दें, वर्ल्डोमीटर के मुताबिक दुनिया में अभी कुल मरीजों का आंकड़ा 93 लाख 53 हजार 735 है, जिसमें 4 लाख 79 हजार 805 लोगों की मौत हो चुकी है. अभी एक्टिव केस की संख्या 38 लाख से अधिक है, जिसमें करीब 58 हजार सीरियस-क्रिटिकल केस हैं. यानी कुल एक्टिव केस के 2 फीसदी लोग सीरियस-क्रिटिकल हैं. भारत में सीरियस-क्रिटिकल केस की संख्या 9 हजार है, यानी एक्टिव केस के करीब 5 फीसदी लोग सीरियस-क्रिटिकल हैं. भारत में कोरोना से सही होने वालों का आंकड़ा 2 लाख 58 हजार 574 है. अभी तक 71 लाख से अधिक सैंपल का टेस्ट किया जा चुका है. यानी भारत में टेस्ट की दर 5173 टेस्ट प्रति मिलियन है.