ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
वाराणसी मंडल के राजभाषा विभाग द्वारा मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय में राजभाषा सप्ताह-2020 के आयोजन का शुभारंभ
September 14, 2020 • परिवर्तन चक्र

वाराणसी 14 सितम्बर, 2020: मंडल रेल प्रबंधक श्री विजय कुमार पंजियार की अध्यक्षता में अपर मुख्य राजभाषा अधिकारी/अपर मंडल रेल प्रबंधक (परिचालन) श्री शिव प्रताप सिंह यादव के नेतृत्व में हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में   वाराणसी मंडल के राजभाषा विभाग द्वारा मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय में राजभाषा सप्ताह-2020 के आयोजन का शुभारंभ आज दिनांक 14.09.2020 को को माइक्रोसॉफ्ट टीम्स (Microsoft Teams) के माध्यकम से ऑनलाइन मंडल राजभाषा क्रियान्वयन समिति की आभासी बैठक/गृहमंत्री एवं रेल मंत्री के संदेशो का वचन एवं तकनीकी संगोष्ठी के आयोजन के साथ हुआ।

इस अवसर पर विचार गोष्ठी  की अध्यक्षता करते हुए मंडल रेल प्रबंधक श्री विजय कुमार पंजियार ने कहा कि कोरोनाकाल के चुनौतीपूर्ण समय में हिन्दी दिवस के अवसर पर आयोजित मंडल राजभाषा कार्यान्वयन समिति की इस बैठक में आप सभी का स्वागत है। आप सब जानते ही हैं कि वर्ष 1949 में इसी दिन संविधान सभा ने हिन्दी को राजभाषा के रूप में स्वीकार किया था। इसी उपलक्ष्य में पूर्व की भाँती इस वर्ष भी राजभाषा सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है, लेकिन इस बार इसका स्वरूप पहले से थोड़ा अलग है । जहाँ हम पहले के आयोजनों में प्रत्यक्ष रूप से शामिल होते थे,वहीं इस वैश्विक महामारी ने हमें आभासी विकल्प अपनाने के लिए विवश कर दिया है। लेकिन हमने इस आपदा को अवसर में बदलने के विकल्प अपना लिए हैं । इसका प्रभाव हम स्वयं अनुभव कर सकते हैं। स्वयं और दूसरों को सुरक्षित रखते हुए हम इस आभासी दुनिया के द्वारा अपने कामकाज निपटा रहे हैं। इसी क्रम में आज की इस बैठक के दौरान संरक्षा के संबंध में आयोजित तकनीकी संगोष्ठी निश्चित ही सभी लाभान्वित होंगे । उल्लेखनीय है की वाराणसी मंडल ने राजभाषा के क्षेत्र में अनुकरणीय कार्य किया है। मंडल में सभी कार्यों में राजभाषा का प्रयोग सफलता पूर्वक किया जा रहा है । उन्होंने कहा कि यह  समय तीव्र परिवर्तन एवं तकनीकी विकास का है । आप सभी तकनीकी क्षेत्र में भी राजभाषा के प्रयोग में वृद्धि के लिए वेबसाईट, ई-मेल एवं सुचना प्रबंधन कार्यों में हिन्दी का प्रयोग करें ,इसके लिए अब ई-ऑफिस में हिन्दी का विकल्प उपलब्ध है। मुझे उम्मीद है कि इन कार्यों के माध्यम से आप राजभाषा प्रयोग की दिशा में अभिनव आयाम जोड़ेंगे । मुझे विश्वास है कि आप सब राजभाषा पखवाड़े के अंतर्गत होने वाली विभिन्न प्रतियोगिताओं में सम्मीलित होकर अन्य लोगों को भी राजभाषा के प्रति जागरूक करेंगे ।

इस अवसर पर अपर मुख्य राजभाषा अधिकारी/अपर मंडल रेल प्रबंधक (परिचालन) श्री शिव प्रताप सिंह यादव द्वारा संगोष्ठी में सम्मीलित सभी का स्वागत करते हुए हिन्दी दिवस की शुभकामनाएं और राजभाषा सप्ताह के दौरान आयोजित विभिन्न वर्चुअल प्रतियोगिताओं एवं पुरस्कार योजनाओं की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने वर्तमान युग में कंप्यूटर और सूचना प्रौद्योगिकी के विकसित हो रहे तकनीक के माध्यम से सोशल नेटवर्किंग, मोबाइल व इंटरनेट पर हिंदी के लगातार बढ़ते प्रयोग को रेखांकित किया तथा सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को हिंदी में कार्य करने की गुणवत्ता बढ़ाने का आह्वान किया।

इस अवसर पर आयोजित संगोष्ठी में वरिष्ठ मंडल सिगनल एवं दूरसंचार इंजीनियर श्री त्रयंबक तिवारी ने सिगनल अनुरक्षण के परिप्रेक्ष्य में रिले रूम आदि कक्षों जिनमें संरक्षा हेतु प्रयुक्त होने वाली डबल लाकिंग प्रणाली को सुविधाजनक तेज और संरक्षित बनाने हेतु  (वन टाइम पासवर्ड ) ओ.टी.पी. आधारित साफ्टवेयर के विषय में विस्तार से बताया। यह साफ्टवेयर स्टेशन मास्टर और सिगनल अनुरक्षक अपने मोबाइल से बिना इंटरनेट के भी प्रयोग कर सकते। इसकी सभी सूचनाएं मुख्य नियंत्रण कक्ष में एकत्रित होती रहती है जिनसे आवश्यकता पड़ने पर विभिन्न प्रकार की उपयोगी जानकारी ली जा सकती है।

इसके पूर्व सभी का स्वागत करते हुए राजभाषा अधिकारी एवं सहायक संरक्षा अधिकारी श्री डी.एस.मीणा ने राजभाषा पर सुझावों पर विस्तृत चर्चा की और सुधार के बारे में बताया। इस बैठक के दौरान राजभाषा प्रगति की समीक्षा की गयी, पिछले कार्यन्वयन समिति की बैठक के कार्यवृन्त की पुष्टि की गयी तथा अगली बैठक हेतु सुझाव लिए गये। समारोह का संचालन एवं धन्यवाद ज्ञापन श्री डी.एस.मीणा ने किया।