ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने लखनऊ में समता मूलक चौराहा से खुर्रम नगर सिक्स लेन मार्ग के किनारे किया वृक्षारोपण
July 5, 2020 • परिवर्तन चक्र


लोक निर्माण विभाग, सेतु निगम व राजकीय निर्माण निगम के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित कार्यक्रम में यहां स्थापित की गई लघु हर्बल वाटिका में किया वृक्षारोपण।

प्रदेश की जनता से कम से कम एक वृक्ष लगाने का किया आह्वान 

वृक्षों की सुरक्षा के किए जाएं, पर्याप्त इंतजाम 

लगाने से ज्यादा, सुरक्षा बहुत जरूरी

कोरोना संकट के समय हर्बल और औषधीय पौधों की उपयोगिता कहीं और ज्यादा बढ़ी : केशव प्रसाद मौर्य

लखनऊः 5 जुलाई 2020। उत्तर प्रदेश मे चलाए जा रहे वृहद वृक्षारोपण कार्यक्रम के तहत उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने आज लखनऊ में समतामूलक चौराहे से खुर्रम नगर तक बने सिक्स लेन मार्ग के किनारे स्थापित की गई लघु हर्बल वाटिका में वृक्षारोपण किया। लो०नि०वि०,सेतु निगम व राजकीय निर्माण निगम के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित इस कार्यक्रम के दौरान उन्होंने वहां पर अर्जुन, नीम ,सहजन बेल ,अमलतास  तुलसी,पीपल आदि के पौधों का रोपण किया।

श्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि वृक्षारोपण से अधिक जरूरी, उनकी सुरक्षा व संरक्षण किया जाना  है। उन्होंने कहा  कि वृक्षारोपण करना समाज और मानवता की बहुत बड़ी सेवा है।क्योंकि वृक्ष नहीं होंगे ,तो जल नहीं होगा और जल नहीं होगा, तो जीवन नहीं होगा।

उन्होंने कहा कि वृक्षों से प्राणवायु मिलती है, रोग प्रतिरोधक क्षमता की वृद्धि होती है । श्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा की  कोरोना संकटकाल  में औषधीय और हर्बल पौधों की उपयोगिता कहीं और अधिक बढ़ गई है। उन्होंने कहा कि वृक्षों की सुरक्षा अपने नौनिहालों की तरह करें ।उनको समय से भोजन व पानी दे।

उन्होंने प्रदेशवासियों का आह्वान किया कि आज के दिन कम से कम एक वृक्ष लगाने का संकल्प लें। अपने माता- पिता, अपने गुरुजनों की स्मृति में वृक्षारोपण करें ।

उन्होंने कहा वृक्षों का धार्मिक और आध्यात्मिक दृष्टिकोण से भी बहुत बड़ा महत्व है। 

श्री केशव प्रसाद मौर्य ने वृक्षों की महत्ता वह उनके महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वृक्षों से जहां प्राण वायु मिलती है, वहीं पर्यावरण संरक्षण व संवर्धन होता है और पर्यावरण संतुलित भी होता है ,यही नहीं वृक्षो को मानव जाति के अलावा पशु -पक्षियों आदि को भी लाभ होता है।

उपमुख्यमंत्री ने कहा सम्पूर्ण  भू भाग के 33.3 प्रतिशत भाग पर वन होने चाहिए, लेकिन भारत मे इससे कम क्षेत्र मे वन है और उ०प्र०तो उससे भी कम क्षेत्र है। संपूर्ण समाज के लोग ठान लें  तो पूरे वर्षा काल में कम से कम उत्तर प्रदेश के लोग एक अरब पौधे तो लगा  सकते हैं ।यह पौधे नई पीढ़ी के लिए वरदान साबित होंगे ।

कहा कि लोक निर्माण विभाग में प्रदेश के पूरे 175 खंडों में हर्बल मार्गों के निर्माण के निर्देश इस वर्ष दिए गए हैं और इन सभी खंडों मे सड़कों के किनारे हर्बल पौधे लगाए जा रहे हैं ।उन्होंने कहा कि  हर्बल रोड योजना की शुरुआत 2018 में की गई थी ,तब से काफी बड़ी तादाद में हर्बल पौधों का रोपण लोक निर्माण विभाग द्वारा किया गया है और इन पौधों के सुरक्षित  रखने के निर्देश दिए गए हैं ।

उपमुख्यमंत्री ने गुरू पूर्णिमा की सभी प्रदेशवासियों को बधाई देते हुए गुरु की महत्ता व महत्व पर प्रकाश डाला ।उन्होंने अपने सारगर्भित, ओजस्वी और प्रेरक उद्बबोधन में त्रेता और द्वापर युग में गुरु शिष्य  परंपराओं का उल्लेख करते हुए, जहां उन्होंने गुरु की महिमा का बखान किया , वहीं उन्होंने गुरु सम्मान के प्रति लोगों में नई  प्रेरणा, नई ऊर्जा व नये उत्साह का संचार  भी किया ।कहा किआज ही के दिन  को वेदव्यास पूर्णिमा  के रूप मे भी मनाया जाता है।

इस अवसर पर लोक निर्माण विभाग के  विभागाध्यक्ष श्री राजपाल सिंह, प्रमुख अभियन्ता  श्री  अनिल जैन,  उद्यान निदेशक  श्री  एस बी  शर्मा, प्रबंध निदेशक  सेतु निगम अरविंद श्रीवास्तव अधीक्षण अभियंता जितेंद्र बांगा ,योगेश चन्द,मनोज अवस्थी सहित अन्य अधिकारी व जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।