ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
तिहाड़ जेल में खूनी खेलः जेल नंबर-1 में कैदी की चाकू से गोदकर हत्या
September 30, 2020 • परिवर्तन चक्र • क्राइम न्यूज

तिहाड़ की जेल नंबर एक में 24 सितंबर को सिकंदर उर्फ सन्नी डोगरा नाम के विचाराधीन कैदी को कुछ दूसरे कैदियों ने चाकुओं से गोदकर मार डाला. सिकंदर अवैध हथियार रखने के जुर्म में तिहाड़ जेल में बंद था.

दिल्ली की तिहाड़ जेल को एशिया की सबसे सुरक्षित जेल माना जाता है. मगर उसी तिहाड़ जेल में दिनदहाड़े एक कैदी की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई. घटना के साथ ही एक कैदी का वीडियो भी सामने आया, जिसमें वो अपनी सुरक्षा की गुहार लगाते हुए जेल प्रशासन पर बेहद गंभीर आरोप लगा रहा था. हत्या की वारदात 24 सितंबर की है. जेल प्रशासन ने इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं. 

तिहाड़ की जेल नंबर एक में 24 सितंबर को सिकंदर उर्फ सन्नी डोगरा नामक विचाराधीन कैदी को कुछ दूसरे कैदियों ने चाकुओं से गोदकर मार डाला. सिकंदर अवैध हथियार रखने के जुर्म में तिहाड़ जेल में बंद था. पता चला है कि सिकंदर ने जेल में नशीले पदार्थ मिलने की शिकायत जेल प्रशासन से की थी. माना जा रहा है कि नशे को जेल में लाने वाले लोगों ने ही इस वारदात को अंजाम दिया है. उन लोगों ने सन्नी को सबक सिखाने की बात भी कही थी.

जेल के वार्डन की तरफ से दी गई तहरीर के मुताबिक सद्दाम, शादाब सफाई और शरीफ नाम के कैदियों पर हत्या का आरोप है. इस हत्या के चश्मदीद जेल के कई कैदी भी हैं. मृतक कैदी के परिवार वाले जेल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं. वे जेल प्रशासन पर इस हत्या की साजिश में शामिल होने का आरोप भी लगा रहे हैं. 

मृतक कैदी की मां का कहना है कि जेल में सुरक्षा के बावजूद चाकुओं से उनके बेटे की हत्या कैसे हो जाती है. यह बिना जेल प्रशासन की मिलीभगत के संभव नहीं है. मृतक की बहन का कहना है कि उसकी मौत के बाद भी कोई जानकारी नहीं दे रहा था. वो 5 बहनों का इकलौता भाई था.  

घटना के बाद कैदियों का वीडियो वायरल

इस घटना के बाद तिहाड़ की जेल नंबर एक से ही कैदियों के कुछ वीडियो वायरल हो रहे हैं. जिसमें एक बैरक में बंद काफी सारे कैदी एक मोबाइल से वीडियो शूट कर रहे हैं. उस वीडियो में वो बता रहे हैं कि किस तरह से सन्नी की हत्या की गई. साथ ही वहां कैदी किस खतरे के बीच रह रहे हैं. वे वीडियो के माध्यम जेल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं, जो जेल की सुरक्षा पर सवाल खड़े करता है. 

इस वीडियो के मामले में जेल प्रशासन ने जांच के आदेश दिए हैं. जांच अधिकारी 5 अक्टूबर तक अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे. लेकिन बड़ा सवाल ये कि आखिर जेल में दिनदहाड़े एक कैदी की हत्या को कैसे अंजाम दिया गया. साथ ही इस कत्ल के बाद जेल में दूसरे कैदियों ने वीडियो बनाकर वायरल कर दिया तो आखिर वहां मोबाइल फोन कहां से आया? ऐसे कई सवाल हैं, जिसके जवाब जेल प्रशासन को देने हैं.