ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत पूर्वोत्तर रेलवे पर भी स्वच्छता पखवाड़ा का आयोजन किया गया
September 21, 2020 • परिवर्तन चक्र

गोरखपुर 21 सितम्बर, 2020। ‘स्वच्छ भारत मिशन‘ के अन्तर्गत सम्पूर्ण भारतीय रेल पर 16 से 30 सितम्बर, 2020 तक स्वच्छता पखवाड़ा मनाया जा रहा है। इसी क्रम में स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत पूर्वोत्तर रेलवे पर भी स्वच्छता पखवाड़ा का आयोजन किया गया है, जिसके अन्तर्गत पूर्वोत्तर रेलवे मुख्यालय एवं इज्जतनगर, लखनऊ, वाराणसी मंडलों पर भी रेलकर्मियों द्वारा स्वच्छता हेतु विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये गये हैं। 

 इसी क्रम में 20 एवं 21 सितम्बर, 2020 को मुख्यालय गोरखपुर में रेलकर्मियों, रेलयात्रियों एवं अन्य रेल उपयोगकत्र्ताओं को स्वच्छता का संदेश देकर स्वच्छता के प्रति उन्हें जागरूक किया गया। रेलवे स्टेशनों, रेल परिसर, रेलवे अस्पताल, रेलवे कालोनियों में लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया गया तथा लोगों को प्लास्टिक प्रयोग से बचने की सलाह दी गयी। रेलवे अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा अपने आसपास के क्षेत्रों एवं अन्य स्थानों पर कूड़े का निस्तारण एवं साफ-सफाई की गयी। 

पूर्वोत्तर रेलवे के इज्जतनगर मंडल के बरेली, इज्जतनगर, फर्रूखाबाद, कन्नौज, काशीपुर, कासगंज, लालकुंआ, पीलीभीत, काठगोदाम स्टेषनों पर रेलकर्मियों ने रेलवे स्टेशनों, कालोनियों एवं अन्य स्थानों पर साफ-सफाई कर कूड़े का निस्तारण किया तथा संक्रमण वाले स्थानों को सेनिटाइज भी किया गया। 

पूर्वोत्तर रेलवे के लखनऊ मंडल के गोमतीनगर, लखनऊ सिटी, ऐशबाग, सीतापुर, बहराईच, बिसवां, बुढ़वल, महमूदाबाद (अवध) एवं अन्य स्टेशनों, रेलवे कालोनियों, रेल परिसरों की साफ-सफाई की गयी। रेल लाइनों, प्लेटफार्मों, रेलवे सरकूलेटिंग एरिया, आरक्षण केन्द्रों एवं अन्य स्थानों की सफाई करने हेतु रेलवे अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने समर्पित भाव से कार्य किया। 

पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल के आजमगढ़, बेल्थरा रोड, बैतालपुर, भटनी, बलिया, छपरा जं0, देवरिया सदर, डीजल लाबी छपरा, गौरी बाजार, गाजीपुर सिटी, खोरासन रोड, प्रयागराज, रामबाग, वाराणसी सिटी, मंडुवाडीह, सीवान जं0, बलिया स्थित रनिंग रूम, वाराणसी सिटी आदि स्टेशनों, रेल परिसरों एवं अन्य सार्वजनिक स्थानों को कूड़ा-करकट, घास-फूस, गन्दगी आदि से मुक्त किया गया। रेल उपयोगकत्र्ताओं को इधर-उधर गन्दगी न करने तथा निर्धारित स्थानों का प्रयोग करने हेतु संदेष देकर जागरूक किया गया।