ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
सुबह खाली पेट चबाएं तुलसी और पुदीने की पत्तियां, दूर रहेंगी ये 5 छोटी-मोटी बीमारियां
September 6, 2020 • परिवर्तन चक्र • स्वास्थ्य

सुबह की स्वस्थ शुरुआत करना तन और मन दोनों के लिए जरूरी है। हम में से कई लोग सुबह सोते रहते हैं और एक गलत रूटीन फॉलो करते हैं, जिसका सबसे ज्यादा असर हमारे शरीर पर होता है। इससे न सिर्फ हमारा पाचन तंत्र, ब्लड सर्कुलेशन और स्किन प्रभावित होती है, बल्कि हमारे मूड व मानसिक स्वास्थ्य पर भी गहरा असर पड़ता है। ऐसे में आज हम आपको एक आसान सी हेल्दी आदत बताएंगे (healthy habits for morning routine), जो आपको जीवन भर काम आएगी।

खाली पेट चबाएं तुलसी और पुदीने की पत्तियां तुलसी और पुदीना पारंपरिक भारतीय चिकित्सा प्रणाली का एक अभिन्न अंग रहा है। तुलसी के पत्तों (Basil Leaves Benefits) में विटामिन ए, विटामिन डी, आयरन और फाइबर होते हैं, जो आपकी प्रतिरक्षा को बढ़ाने में मदद करते हैं और संक्रमण को कम करते हैं। वहीं आयुर्वेद के अनुसार, पुदीना (Benefits Of Mint) कफ और वात दोष को कम करता है और भूख बढ़ाता है। ऐसे में जब आप इन दोनों का खाली पेट पर सेवन करते हैं, तो यह शरीर को ढेर सारे लाभ पहुंचाते हैं।

तुलसी और पुदीने को खाने के फायदे

1.पाचन को बढ़ावा देता है तुलसी और पुदीने के पत्तों का जब नियमित रूप से सेवन किया जाता है, तो ये पाचन क्रिया में सुधार लाता है। यह एसिड रिफ्लक्स को संतुलित करता है और पेट में पीएच स्तर को संतुलित रखता है। वहीं पुदीने का रस शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है और आपको अधिक तेज़ी से वजन कम करने में मदद कर सकता है। यह आपके शरीर के चयापचय को नियंत्रित करता है, वजन घटाने में सहायता करता है।

2.ब्लड शुगर को संतुलित करता है तुलसी और पुदीने में कुछ ऐसे घटक होते हैं, जो कोशिकाओं के कामकाज के काम काज को बेहतर बनाते हैं। साथ ही ये ब्लड शुगर को रेगुलेट करता है और शरीर में इंसुलिन के रिलीज को बेहतर बनाता है। वहीं तुलसी और पुदीना एक साथ मिल कर कार्बोहाइड्रेट और वसा को पचाने में मदद करते हैं, जिससे की पेट में गैस से जुड़ी परेशानियां नहीं होती हैं।

3.सर्दी को ठीक करता है तुलसी अपने एंटी-माइक्रोबियल गुणों के लिए जाना जाता है। सुबह खाली पेट इसे खाना इंफेक्शन और सर्दी-जुकाम से आपको बचाए रख सकता है। वहीं ये दोनों इम्यूनिटी बूस्टर भी है क्योंकि तुलसी जहां एंटीऑक्सिडेंट में समृद्ध है, तो वहीं पुदीना एंटी-बैक्टीरियल गुणों की भरमार है। इसलिए, यह आपके शरीर को विभिन्न संक्रमणों से बचा सकता है। यह हानिकारक बैक्टीरिया और वायरस से लड़ता है, स्वस्थ प्रतिरक्षा कोशिकाओं के निर्माण को बढ़ाता है।

4.तनाव से राहत देता है तुलसी और पुदीने के पत्ते अडॉप्टोजेन से भरपूर होते हैं जो आपके शरीर में तनाव के स्तर को कम करने में मदद करते हैं। यह आपके तंत्रिका तंत्र को आराम करने और रक्त परिसंचरण को बढ़ाने में भी मदद करता है। यह इंद्रियों को शांत कर रहा है और तनाव को कम करने में योगदान देता है। अगर आप सुबह बस इन दोनों की 4 पत्तियां खा लें, तो ये आपके मूड को बेहतर बनाएगा और आपके तनाव होर्मोन को कंट्रोल करेगा।

5. त्वचा में निखार लाता है जब आप खाली पेट तुलसी और पुदीने का सेवन करते हैं, तो यह आपके खून से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है और खून साफ करता है। यह मुंहासे और दाने को कम कर देता है, त्वचा को साफ बनाए रखता है। वहीं इनकी एंटीऑक्सिडेंट सामग्री आपकी त्वचा को भी युवा रखती है।

तो इस तरह तुलसी और पुदीने का सेवन आपको स्वस्थ रख सकता है। बस आपको अपने सुबह की रूटीन में इन्हें खाने की आदत डालनी चाहिए। तो घर में तुलसी और पुदीने का पौधा लगाएं और स्वस्थ जीवन के लिए ये नुस्खा अपनाएं।