ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
सी.एम.एस. में वर्चुअल ‘मैकफेयर इण्टरनेशनल-2020’ का भव्य उद्घाटन
September 21, 2020 • परिवर्तन चक्र


लखनऊ, 21 सितम्बर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, महानगर कैम्पस द्वारा आनलाइन आयोजित की जा रही पाँच दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय विज्ञान एवं कम्प्यूटर प्रतियोगिता ‘मैकफेयर इण्टरनेशनल-2020’ का आज भव्य उद्घाटन हुआ। मुख्य अतिथि के रूप में आनलाइन उपस्थित श्रीमती संगीता सिंह, आई.ए.एस., चीफ एक्जीक्यूटिव आफीसर, आयुष्मान भारत एवं एम.डी., मेडिकल सप्लाइस कार्पोरेशन, ने मैकफेयर इण्टरनेशनल का विधिवत् उद्घाटन किया।

आनलाइन शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों के बीच सम्पन्न हुए समारोह में नेपाल समेत देश के विभिन्न प्रदेशों की प्रतिभागी छात्र टीमों ने अनूठे अंदाज में अपना परिचय प्रस्तुत कर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। इस अवसर पर सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी, सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन व अन्य गणमान्य अतिथियों ने आॅनलाइन उपस्थिति से समारोह की गरिमा को बढ़ाया। विदित हो कि सी.एम.एस. महानगर कैम्पस द्वारा वर्चुअल ‘मैकफेयर इण्टरनेशनल-2020’ का आयोजन 21 से 25 सितम्बर तक किया जा रहा है, जिसमें देश-विदेश के विभिन्न प्रतिष्ठित विद्यालयों की 40 छात्र टीमें आनलाइन प्रतिभाग कर अपनी वैज्ञानिक प्रतिभा व ज्ञान का जोरदार प्रदर्शन कर रहे हैं, साथ ही विभिन्न रचनात्मक प्रतियोगिताओं के माध्यम से विश्व एकता व विश्व शान्ति का संदेश प्रवाहित कर रहे हैं।

उद्घााटन समारोह में बोलते हुए मुख्य अतिथि श्रीमती संगीता सिंह, आई.ए.एस., ने कहा कि कोविड-19 के कारण लोगों की बुनियादी सोच में बदलावा आया है और हम जीवन की मौलिक चीजों के प्रति जागरूक हो रहे हैं। उन्होंने छात्रों से अपील की कि किताबी ज्ञान के साथ ही जीवन मूल्यों का ज्ञान भी नितान्त आवश्यक है। मानव जाति के समक्ष आज अनेक प्रकार की विश्वव्यापी समस्याऐं हैं। इन समस्याओं को हल करने का बहुत बड़ा दायित्व भावी वैज्ञानिकों का हैं। 

सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने कहा कि मैकफेयर इण्टरनेशनल का यह आनलाइन आयोजन प्रतिभागी छात्रों को न केवल स्वस्थ प्रतिस्पर्धा के माध्यम से अपने ज्ञान का विस्तार करने का अवसर प्रदान कर रहा है अपितु यह छात्रों को मानवजाति के कल्याण के लिए कार्य करने की प्रेरणा देता है। डा. गाँधी ने जोर देते हुए कहा कि विज्ञान के माध्यम से हम ईश्वर की बनाई धरती के लोगों को एकता के सूत्र में पिरोंये, यही इस मैकफैयर का संदेश है।

सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने अपने संबोधन में कहा कि कोविड-19 के इस दौर में वर्चुअल मैकफेयर इण्टरनेशनल का आयोजन एक क्रान्तिकारी सोच है, जो छात्रों के उत्साह को जगाकर उनकी नैसर्गिक प्रतिभा को अन्तर्राष्ट्रीय पटल पर निखारने व संवारने का अवसर उपलब्ध करा रहा है।

इससे पहले, वर्चुअल ‘मैकफेयर इण्टरनेशनल-2020’ के उद्घाटन समारोह में सी.एम.एस. छात्रों ने एक से बढ़कर एक रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों का आॅनलाइन प्रस्तुतीकरण कर सभी का दिल जीत लिया। स्कूल प्रार्थना, स्वागत गान, मैकफेयर गीत, सर्वधर्म प्रार्थना, विश्व शान्ति प्रार्थना, आदि कार्यक्रमों की सभी ने भरपूर प्रशंसा की। इस अवसर पर छात्रों ने एक शानदार विश्व संसद का आयोजन भी किया तथापि विश्व की समस्याओं  के वैज्ञानिक व शान्तिपूर्ण समाधान भी सुझाए। 

‘मैकफेयर इन्टरनेशनल’ के पहले दिन आज ‘साइन्स क्विज (यूरेका)’ का आॅनलाइन आयोजन हुआ। लिखित राउण्ड के उपरान्त फाइनल राउण्ड से हुआ, जिसमें 10 चुनी हुई छात्र टीमों ने प्रतिभाग किया। प्रत्येक टीम से एक छात्र ने प्रतिभाग किया। इस प्रतियोगिता में साइन्स एवं टेक्नोलाॅजी से सम्बन्धित सवाल पूछे गये, जिनका प्रतिभागी छात्रों ने बिजली की तेजी से उत्तर देकर अपनी प्रतिभा को साबित किया। 

वर्चुअल ”मैकफेयर इण्टरनेशनल“ की संयोजिका एवं सी.एम.एस. महानगर कैम्पस की प्रधानाचार्या डा. कल्पना त्रिपाठी ने मुख्य अतिथि व अन्य आमन्त्रित अतिथियों का आॅनलाइन स्वागत-अभिनंदन करते हुए कहा कि देश-विदेश की विभिन्न छात्र टीमों का इस वर्चुअल अन्तर्राष्ट्रीय मंच पर उपस्थित होना इस बात का प्रमाण है कि बाल वैज्ञानिक दुनिया को एकजुट करना चाहते हैं। मैकफेयर की प्रतियोगिताएं छात्रों की प्रतिभा को तो उभारने के अलावा उनके मनोबल व आत्मविश्वास को बढ़ाने में सहायक हैं, जो चुनौतियों को सहर्ष स्वीकार करने का हौसला प्रदान करती है। डा. त्रिपाठी ने बताया कि वर्चुअल मैकफेयर इण्टरनेशनल के अन्तर्गत कल 22 सितम्बर को साइन्स ओलम्पियाड प्रतियोगिता के अन्तर्गत प्रातः 9 बजे से अपरान्हः 4.00 बजे तक बाॅयलाॅजी, मैथमेटिक्स, केमिस्ट्री एवं फिजिक्स ओलम्पियाड के अलग-अलग सेशन आयोजित किये जायेंगे।