ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
सी.एम.एस. में नये शैक्षणिक सत्र के ऑनलाइन शुभारम्भ से छात्रों व अभिभावकों में छाई खुशी की लहर
July 1, 2020 • परिवर्तन चक्र

लखनऊ, 1 जुलाई। सिटी मोन्टेसरी स्कूल के शिक्षकों, छात्रों व अभिभावकों में आज नये शैक्षणिक सत्र के आनलाइन शुभारम्भ से खुशी की लहर दौड़ गई। छात्रों की खुशी का आलम यह रहा कि आज पहले ही दिन विद्यालय के सभी कैम्पसों के 56,000 छात्रों की लगभग सौ प्रतिशत उपस्थित दर्ज की गई। इस अवसर पर छात्रों व अभिभावकों को आॅनलाइन कक्षाओं की विस्तृत जानकारी, किताबों की सूची, सिलेबस एवं टाइमटेबल आदि की विस्तार से जानकारी दी गई। छात्रों व अभिभावकों की सुविधा हेतु ये सभी उपयोगी जानकारियाँ सी.एम.एस. की वेबसाइट पर भी उपलब्ध हैं। इस प्रकार, सी.एम.एस. के सभी 18 कैम्पसों में आज से नियमित तौर पर टाइमटेबल के अनुसार छात्रों की आॅनलाइन पढ़ाई पूरी तरह से प्रारम्भ हो गई।

इससे पहले, नये शैक्षणिक के पहले दिन आज सी.एम.एस. के सभी कैम्पसों के शिक्षक-शिक्षकाओं ने छात्रों व अभिभावकों के साथ मिलकर बड़े हर्षोल्लास से आनलाइन ‘विद्या का पर्व’ समारोह मनाया। इस अवसर पर सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी एवं डा. (श्रीमती) भारती गाँधी ने नये सत्र हेतु शिक्षकों का हार्दिक स्वागत किया तथापि सी.एम.एस. के विभिन्न कैम्पस की प्रधानाचार्याओं ने शिक्षकों का उत्साहवर्धन किया एवं भावी पीढ़ी के सर्वांगीण विकास हेतु उनका मार्गदर्शन किया। आनलाइन ‘विद्या का पर्व’ समारोह का शुभारम्भ ‘स्कूल प्रार्थना’ से हुआ। इस अवसर पर छात्रों को आनलाइन शिक्षा के तौर-तरीके, सी.एम.एस. की उपलब्धियाँ, अनुशासन का महत्व, प्रेयर असेम्बली का महत्व, एवं कोरोना महामारी से बचाव के तौर-तरीकों पर विशेष रूप से जागरूक किया गया।

इस अवसर पर छात्रों व शिक्षकों को आनलाइन सम्बोधित करते हुए सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने छात्रों का आह्वान किया कि वर्तमान परिस्थिति को देखते हुए आनलाइन कक्षाओं का भरपूर उपयोग करें और मन लगाकर पढ़ाई करें। शिक्षकोें का मार्गदर्शन करते हुए डा. गाँधी ने आगे कहा कि वर्तमान समय पूरे विश्व के लिए अभूतपूर्व संकट का समय है, ऐसे में भावी पीढ़ी को उद्देश्यपूर्ण शिक्षा प्रदान करने की महती आवश्यकता है, जिसमें चरित्र निर्माण व विश्वव्यापी सोच शिक्षा के महत्वपूर्ण अंग है। सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने इस अवसर पर कहा कि सी.एम.एस. के शिक्षक बधाई के पात्र हैं जिन्होंने कोरोना महामारी के इस कठिन दौर में भी छात्रों का ज्ञानवर्धन करने के साथ ही उनकी रचनात्मक गतिविधियों में कमी नहीं आने दी और डांस, म्यूजिक, वर्कशाप, क्विज आदि विभिन्न गतिविधियों द्वारा छात्रों की रचनात्मकता को संवारते रहे। इस आनलाइन समारोह में सी.एम.एस. संस्थापिक-निदेशिका एवं प्रख्यात शिक्षाविद् डा. (श्रीमती) भारती गाँधी ने सभी शिक्षकों व कार्यकर्ताओं को उनकी विशिष्ट सेवाओं के लिए हार्दिक धन्यवाद दिया।

सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि बीते मार्च, अप्रैल व मई माह में सी.एम.एस. की आनलाइन कक्षाएं बड़े ही सफलतापूर्वक सम्पन्न हुई हैं। श्री शर्मा ने बताया कि छात्रों को आनलाइन शिक्षा प्रदान करना सी.एम.एस. में अन्य विद्यालयों की तुलना में काफी सुगम है क्योंकि आनलाइन शिक्षा के लिए सी.एम.एस. में पहले से ही सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध हैं। सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन और डायरेक्टर आॅफ स्ट्रेटेजी श्री रोशन गाँधी के प्रयासों से सी.एम.एस. में ई-लर्निंग विभाग की स्थापना पहले ही हो चुकी थी। इस ई-लर्निंग विभाग में 330 आईटी एक्सपर्ट कार्यरत हैं। ये आईटी विशेषज्ञ सिटी मोन्टेसरी स्कूल के सभी 18 कैम्पस के सभी शिक्षकों को आधुनिक आनलाइन तकनीकों के उपयोग हेतु लगातार प्रशिक्षण प्रदान करते हैं। श्री शर्मा ने कहा कि वर्तमान समय की चुनौतियों को देखते हुए आॅनलाइन शिक्षा ही सर्वश्रेष्ठ विकल्प है।