ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
पुण्यतिथि पर याद किए गए डॉ. अवध बिहारी तिवारी 'लहरी'
October 1, 2020 • परिवर्तन चक्र

बलिया। चंद्रशेखर नगर स्थित शक्ति स्थल स्कूल पर विद्यालय के संस्थापक डॉ. अवध बिहारी तिवारी 'लहरी' की पुण्यतिथि मनाई गई।

कार्यक्रम में उपस्थित डॉक्टर शत्रुघ्न पांडेय ने कहा कि वह बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। चिकित्सा के क्षेत्र में रहते हुए भी उन्होंने साहित्य सृजन के साथ देश के तत्सामयिक परिस्थितियों पर नाटक लिखकर देश की एकता व अखंडता के लिए प्रेरित किया।

विद्यालय के प्रबंधक दुर्गा दत्त त्रिपाठी ने कहा कि उनके द्वारा रचित दहेज और बेटी नाटक में दहेज लोभियों पर कुठाराघात किया गया है तथा कारगिल विजय नाटक में अपने देश के वीर सैनिकों को पाकिस्तान को धूल चटा देने के लिए उत्साहित किया गया है।

पुण्यतिथि में उपस्थित डॉक्टर लहरी के सहकर्मी डॉक्टर फतेहचंद बेचैन ने कहा कि डॉक्टर लहरी कवि, साहित्यकार, अभिनेता, निर्देशक, समाज सुधारक, महत्वाकांक्षी विचार के व्यक्ति और आत्मनिर्भर सोच के व्यक्ति थे।

उक्त अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य आशुतोष त्रिपाठी ने कहा कि डॉ लहरी सरल, सजग व प्रतिभा संपन्न थे। वे अपने जीवन में गो, गंगा, गायत्री, गीता का अनुपालन किए। उक्त अवसर पर संतोष ठाकुर, नीरज गुप्ता, रामजी त्रिपाठी, ओम प्रकाश ठाकुर, गौरव उपाध्याय, ओम प्रकाश त्रिपाठी, दीपक पांडेय, संगम त्रिपाठी, देवांश, शिवांश, भार्गव, अतुल कुमार पांडेय, अंबिका त्रिपाठी, दुर्गा उपाध्याय, नीलू श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन साकेत त्रिपाठी ने किया।