ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल का मऊ जं रेलवे स्टेशन बना कोविड केयर सेन्टर
July 6, 2020 • परिवर्तन चक्र

वाराणसी 06 जुलाई, 2020; पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल का मऊ जं रेलवे स्टेशन देश का पहला रेलवे स्टेशन बन गया है जहां पर रेलवे प्रशासन द्वारा कोविड केयर सेन्टर के रूप में परिवर्तित किये गये कोच में कोरोना संदिग्ध मरीजों को रखा जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि आज 06 जुलाई तक इस कोविड केयर सेन्टर में कुल 188 संदिग्ध मरीजों को भर्ती किया गया जिनमें में 65 संदिग्ध व्यक्तियों को स्वस्थ हो जाने पर डिस्चार्ज कर दिया गया। वर्तमान में 123 मरीजों को यहाँ रखा गया है जिनमें 27 कन्फर्म केस एवं 96 संदिग्ध केस हैं।

आज मऊ जं रेलवे स्टेशन पर कोविड केयर सेंटर के रूप में स्थापित कोचों की व्यवस्थाओं का संज्ञान लेने के लिए पूर्वोत्तर रेलवे के अधिकारीयों एवं राज्य सरकार की मेडिकल टीम ने आज स्टेशन और कोविड कोचों का व्यापक निरिक्षण किया और मरीजों को मिलने वाली सुविधाओं की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने कोविड केयर कोचों की साफ-सफाई, डीसइन्फेक्शन, सेनेटाईजेशन, पानी की आपूर्ति ,बिजली की आपूर्ति, स्टेशन से आइसोलेशन, प्रवेश एवं निकास मार्गों का निरिक्षण किया और संतोष व्यक्त किया।

कोविड-19 से निपटने के लिये पूर्वोत्तर रेलवे पर  आवंटित लक्ष्य के सापेक्ष कुल 217 कोचों को समय से पूर्व ही कोविड केयर सेन्टर के रूप में परिवर्तित कर चिकित्सकीय उपयोग हेतु राज्य सरकार को सौपा जा चुका है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पूर्वोत्तर रेलवे पर सेवित कुल 07 स्टेशनों- वाराणसी सिटी, मंडुवाडीह, बलिया, मऊ, गाजीपुर सिटी, आजमगढ़, भटनी (पर कोविड केयर सेंटर कोच लगाया गया है प्रत्येक रेक में कुल 12 कोच लगाये गये है। इनमें चिकित्सकों हेतु एक एसी कोच, परिचारकों एवं मेडिकल सामग्रियों हेतु एक कोच एवं मरीजों के लिए केबिन युक्त 08 कोच समेत एक एस.एल.आर. कोच प्रयुक्त है।

*अशोक कुमार*
जनसम्पर्क अधिकारी, वाराणसी।