ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
पूर्वोत्तर रेलवे के तीनों मंडलों-लखनऊ, वाराणसी एवं इज्जतनगर में विभिन्न स्थानों पर ग्रीन नर्सरी की गयी है विकसित
July 7, 2020 • परिवर्तन चक्र

गोरखपुर 07 जुलाई, 2020: प्रतिवर्ष 01 से 07 जुलाई तक देश भर में मनाये जाने वाले ’’वन महोत्सव’’ के अन्तर्गत बड़े पैमाने पर पौधारोपण किया जाता है। पर्यावरण संरक्षण का सर्वोत्तम तरीका पौधारोपण माना जाता है। पेड़ प्रकृति का अनमोल उपहार हैं जिनको हर रूप में मानव द्वारा प्रयोग में लाया जाता है। जड़, तना, पत्ती, छाल, फल और फूल प्रदान करने वाले विभिन्न वृक्ष मानव जीवन के लिये अपरिहार्य है। पर्यावरण संरक्षण, बढ़ते तापमान तथा ध्वनि प्रदूषण को रोकने में अहम भूमिका निभाने के साथ ही ये वर्षा के जल को धरती के भीतर पहुॅचाने तथा भूमिगत जलस्तर को बढ़ाने में भी अत्यन्त उपयोगी है। 

पर्यावरण संरक्षण को लेकर रेलवे बेहद संवेदनशील है। रेलवे के लगभग सभी बड़े निरीक्षण में, पौधारोपण का कार्यक्रम अवश्य रहता है और उसी की देन है कि रेलवे की आवासीय कालोनियों, कार्यालय, प्रशिक्षण केन्द्र इत्यादि इतने हरे-भरे पौधें से भरे रहते है। रेलवे कालोनी में रहने वाले अधिकारी एवं कर्मचारी अपने आवासों में आने वाली रेलवे की अगली पीढ़ी के लिये पौधे लगाते है। पूर्वोत्तर रेलवे के तीनों मंडलों- लखनऊ, वाराणसी एवं इज्जतनगर में विभिन्न स्थानों पर ग्रीन नर्सरी विकसित की गयी है

इसी क्रम में पूर्वोत्तर रेलवे प्रषासन द्वारा 07 जुलाई, 2020 को गोरखपुर में नंदानगर सब-वे के पास 2000 वर्ग मीटर क्षेत्रफल के ग्रीन नर्सरी में तथा धर्मषाला स्थित कम्प्यूटरीकृत आरक्षण केन्द्र परिसर में 2500 वर्ग मीटर क्षेत्रफल में वृहद पौधारोपण किया गया। इन दोनों स्थलों पर लगभग तीन-तीन सौ पौधें लगाये गये। आज पौधारोपण के दौरान आम, कटहल, बेल, टीकोमा, लीची, नीबू, सागौन, गुलाईचिन, हरसिंगार, राजरानी, मयूरपंखी, सावनी, अमरूद एवं आॅवले के पौधें लगाये गये। इसी परिप्रेक्ष्य में उल्लेखनीय है कि पर्यावरण संरक्षण को ध्यान में रखते हुए गोरखपुर में खाली रेल भूमि पर 10000 हजार सागौन, अमरूद एवं आवले के पेड़ विभिन्न चरणों में लगाये जाने की योजना है। 

ज्ञातव्य है कि पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन द्वारा स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रतिवर्ष वृहद पौधारोपण की एक स्वस्थ्य परम्परा है। आगामी स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) के अवसर पर गोरखपुर में दुर्गा माता मंदिर रोड (रेल म्यूजियम के पष्चिम ओर की सड़क ) पर 3000 पौधे लगाये जायेंगे जिनमें सागौन और मोहगनी के पौधे प्रमुख होगे। वर्ष-2019 में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर बिछिया रोड पर शिव मंदिर के पास कुल लगभग 810 उपयोगी पौधें लगाये गये।  इसी प्रकार स्वतंत्रता दिवस-2018 के अवसर पर जेलरोड, आटा चक्की परिसर एवं बिछिया कालोनी में कुल 2400 पौधे लगाये गये। अभी तक लगाये जा चुके पौधे उचित देखभाल के परिणामस्वरूप  अच्छे प्रकार से विकसित हो रहे है।