ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
पूर्वोत्तर रेलवे का लखनऊ मंडल श्रमिकों के लिए रेलवे के निर्माण एवं अन्य कार्यों के तहत रोजगार के अवसर कर रहा प्रदान
July 29, 2020 • परिवर्तन चक्र

लखनऊ 29 जुलाई 2020: उत्तर प्रदेश सरकार से समन्वय स्थापित करते हुए, महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (MGNREGA) के अंतर्गत लखनऊ मंडल पूर्वोत्तर रेलवे, श्रमिकों के लिए रेलवे के निर्माण एवं अन्य कार्यों के तहत रोजगार के अवसर प्रदान कर रहा है। जिसमे लखनऊ मंडल द्वारा सेवित गोरखपुर, गोंडा, महाराजगंज, बस्ती, बाराबंकी, बलरामपुर, सीतापुर एवं सिद्धार्थनगर जनपदों के अंतर्गत विभिन्न रेलवे स्टेशनों, रेल खण्डों तथा रेलवे परिसर में झाड़ियों की कटाई, साफ-सफाई, पौधारोपण, मिटटी के समतलीकरण, तटबंधों का सुदृढ़ीकरण तथा रेलवे फाटकों के पंहुच मार्गों (Approach Road) के चौड़ीकरण व मरम्मत का कार्य जिला प्रशासन की संस्तुति के उपरान्त मनरेगा मजदूरों द्वारा संपन्न किया जाना प्रस्तावित है।

लखनऊ मंडल इस प्रकार मनरेगा योजना के तहत मजदूरों के लिए लगभग 12 हजार मानव दिवस के रोजगार का सृजन कर रहा है, जिससे स्थानीय मजदूरों के लिए बड़ी मात्रा में रोजगार उनके निवास स्थान के समीप ही सृजित हो रहा है। जिसमे से सिद्धार्थनगर, बलरामपुर, महराजगंज एवं बस्ती जिलों में कार्य की स्वीकृति के उपरान्त रेलवे कार्य मनरेगा मजदूरों द्वारा संपन्न किया जा रहा है। कुल लगभग 25 कार्य प्रस्तावित हैं जिनमें 8 स्वीकृत हो चुके हैं (कुल लागत रू. 31.10 लाख) व इन पर कार्य प्रगति में है।

रेलवे के प्रस्ताव पर जिला प्रशासन, स्थानीय अधिकारियों व ग्राम प्रधानों के सहयोग से रेल खण्डों के निकटवर्ती गाँवों के मनरेगा मजदूरों से कार्य करवाता है, जिससे रेलवे का कार्य पूर्ण हो रहा है तथा मजदूरों को दीर्घकालिक रोजगार भी उपलब्ध कराया जा रहा है। कार्य के दौरान कोविड-19 से सम्बंधित सभी आवश्यक निर्देश व सतर्कता बरतते हुए सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क व सैनीटाइजर के प्रयोग आदि का पालन सुनिश्चित किया जा रहा है। उक्त जानकारी महेेश गुप्ता, जन संपर्क अधिकारी, पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ ने दी।