ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
फल-सब्जियों से घर में ना आ जाए कोरोना की तबाही, बरतें ये सावधानी
July 11, 2020 • परिवर्तन चक्र

पूरी दुनिया कोरोना वायरस के संकट से जूझ रही है. वायरस के संक्रमण का खतरा इतना बढ़ गया है कि लोग खाने-पीने की चीजों को भी सैनिटाइज करने लगे हैं. सब्जियों और फलों को खाने से साबुन और डिटर्जेंट से धो रहे हैं. हालांकि कई स्टडी में ऐसा बताया गया है कि ऐसा करना जरूरी नहीं है.

अभी तक ऐसे साक्ष्य सामने नहीं आए हैं जो ये साबित करें कि कोरोना खाने के जरिए भी फैलता है. हालांकि, खाने-पीने की चीजों में सावधानी बरतने के लिए आपको एक्सपर्ट्स द्वारा बताई गई कुछ गाइडलाइंस फॉलो कर लेनी चाहिए.

1. फल और सब्जियों को पानी में खंगालने या धोने से पहले हाथों को अच्छे से धोना जरूरी है. कोरोना वायरस सरफेस के जरिए फैलता है, इसलिए दोनों हाथों को 20 सेकेंड तक अच्छी तरह धोकर ही खाने के सामान को हाथ लगाएं.

2. बाजार से फल-सब्जियां खरीदने के बाद उन्हें चलते पानी में अच्छे से रगड़कर धोएं. FDA (फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन) के मुताबिक, सब्जी और फलों को काटने से पहले धोना जरूरी है ताकि उन्हें छीलते वक्त गंदगी और बैक्टीरिया चाकू पर ना आएं.

3. FDA के मुताबिक, साबुन, डिटर्जेंट या किसी स्पेशल लिक्विड से खाने की चीजों को धोना सही नही हैं. चलते पानी में उसे रगड़कर धोना ज्यादा बेहतर विकल्प है. साथ ही धोते वक्त डैमेज हुए हिस्से को खाने से पहले निकालकर फेंक दें.

4. आलू या गाजर जैसी जड़ वाली सब्जियों की सफाई करते समय गंदगी को हटाने के लिए एक ब्रश या स्पंज का उपयोग किया जाना चाहिए. तरबूज या खीरा जैसी चीजों को खाने से पहले वेजिटेबल ब्रश की मदद से अच्छे से साफ करें.

5. सब्जियों को खाने से पहले अच्छी तरह उबालना जरूरी है. कच्ची और पकी हुई सब्जियों को अलग-अलग रखें. खासतौर से कच्चे मांस को लेकर ज्यादा सावधानी बरतें.  WHO की एक रिपोर्ट के मुताबिक, रोजाना तकरीबन 400 ग्राम फल और सब्जियों का सेवन करना जरूरी है.

6. बाजार से खाने के पैकेट लाकर कम से कम 4 घंटे के लिए एकदम अलग रख दें. आप चाहें तो सब्जी या फलों को थोड़ी देर के लिए गर्म पानी में बेकिंग सोडा मिलकर रख सकते हैं. सैनिटाइजर सिर्फ स्किन, स्टील या धातु की चीजों पर असर दिखा सकता है.
 
7. डेयरी प्रोडक्ट्स जैसे कि दूध, दही, पनीर या चीज़ जैसे खाद्य पदार्थों को बाहर खुले में रखने की गलती ना करें. इस तरह के पैकैट को अच्छे से धोने के बाद सामान बाहर निकालें और उसे फ्रीज में सुरक्षित रख दें.
 
8. प्लास्टिक या मेटल के सरफेस पर यह वायरस  24 से 48 घंटों तक जिंदा रह सकता है. इसलिए इसे तुरंत लाकर फ्रीज में रखने से परहेज करें. इस तरह का सामान रूम टेंपरेचर में किसी सुरक्षित स्थान पर रखें और सावधनी के साथ उसका इस्तेमाल करें.