ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
पेशाब में जलन भी यूरिन एसिड का लक्षण, जानिये इससे बचाव के तरीके
September 22, 2020 • परिवर्तन चक्र • स्वास्थ्य

तेजी से बढ़ रहा है यूरिक एसिड का खतरा, जानें कैसे करें बचाव

शरीर में यूरिक एसिड का बढ़ जाना कई स्वास्थ्य समस्याओं को जन्म देता है। इसके कारण गठिया का होना आए दिन हम सुनते रहते हैं लेकिन किडनी खराब होने के पीछे भी यूरिक एसिड का बढ़ जाना एक बड़ा कारण होता है।

हमारे शरीर में यूरिक एसिड का बढ़ जाना कई स्वास्थ्य समस्याओं को जन्म देता है। इसके कारण गठिया का होना आए दिन हम सुनते रहते हैं लेकिन किडनी खराब होने के पीछे भी यूरिक एसिड का बढ़ जाना एक बड़ा कारण होता है। ऐसा होने पर हमारे पेशाब में जलन की समस्या उत्पन्न होती है जिसे कई बार हम नजरअंदाज कर देते हैं जो कि खतरनाक साबित हो सकता है।

यूरिक एसिड क्या होता है 

पाचन की प्रक्रिया और शरीर की कोशिकाओं में मौजूद प्यूरीन न्यूक्लियोटाइडों जब टूटता है तब हमारे शरीर में यूरिक एसिड बनता है। जब हम असंतुलित और अनियमित डाइट लेते हैं तब इसका हमारे शरीर में बढ़ जाने की आशंका होती है। शरीर में जब यूरिक एसिड बढ़ जाता है तो यह किडनी से पूरी तरह बाहर नहीं निकल पाता जिससे हमें कई बीमारियां होती हैं। यूरिक एसिड जब शरीर में बढ़ने लगता है तब कई और लक्षणों के साथ हमें बार-बार वॉशरूम जाना पड़ता है। साथ ही पेशाब करते में जलन महसूस होती है।

बचाव के तरीके

शरीर में जब यूरिक एसिड की मात्रा अधिक हो जाए तो प्रोटीन का सेवन कम कर देना चाहिए। खाने में दही, चावल, दाल, आदि का सेवन सीमित मात्रा में करें।

शरीर में अतिरिक्त यूरिक एसिड को घटाने के लिए क्षारीय पदार्थों के सेवन को बढ़ा देना चाहिए। हरी सब्जियां, फल, दूध, मूली का जूस, बिना पॉलिश किए अनाज आदि का सेवन करना चाहिए।

भरपूर मात्रा में पानी पीने से पेशाब में जलन की समस्या कम होगी। क्योंकि इससे शरीर का यूरिक एसिड पेशाब के जरिये बाहर निकल जाएगा। लेकिन इसमें यह ध्यान रखना जरूरी है कि खाना खाते समय पानी का सेवन न करें। खाने के कुछ समय पहले या खाने के एक घंटे बाद ही पानी का सेवन करें। अगर जरूरी हो तो खाने के समय बिल्कुल कम मात्रा में पानी पीएं।

रोजाना अपनी डाइट में 500 ग्राम के करीब विटामिन C जरूर शामिल करें। यह यूरिक एसिड को पेशाब के रास्ते आसानी से निकालने में मदद करता है। नींबू , सिट्रिक फल- सब्जियां आदि भोजन में शामिल करें। एंटीऑक्सीडेंट्स जैसे शिमला मिर्च, ब्लूबेरी, ब्रोकोली और अंगूर आदि को अपनी डाइट का हिस्सा बनाएं।

नियमित और संतुलित खान – पान के अलावा व्यायाम को भी अपने दिनचर्या का हिस्सा बनाएं। वॉकिंग, रनिंग और योग आदि से आपके शरीर में अतिरिक्त यूरिक एसिड का स्तर कम होता है और पेशाब में जलन की समस्या आदि भी दूर होती है।

यूरिक एसिड के बढ़ने से पेशाब में जलन महसूस होने लगे तो हमें डॉक्टर से अवश्य संपर्क कर इसकी पुष्टि करनी चाहिए। इसके साथ कुछ बातों का ध्यान रखकर भी हम शरीर में यूरिक एसिड के स्तर को संतुलित बनाए रख सकते हैं।