ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
निर्माणाधीन कार्यों की बनायी जाय, शार्ट वीडियो : केशव प्रसाद मौर्य
November 2, 2020 • परिवर्तन चक्र • उत्तर प्रदेश

-युद्धस्तर पर कराये जायें निर्माण कार्य

-मानकों व गुणवत्ता के साथ नहीं होगा कोई समझौता

-सड़क सुरक्षा के किये जांए, पुख्ता प्रबन्ध

-हर्बल वाटिकाओं को बनाया जाय, बहुपयोगी

लखनऊ, दिनांक 02 नवम्बर 2020:उ 0प्र0 के उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि निर्माणाधीन परियोजनाओं का कार्य, शीघ्र से शीघ्र पूरा किया जाय, उन्होने कहा है कि सभी कार्य निर्धारित मानकों के अनुरूप व गुणवत्तापरक होने चाहिए, कार्यों को निर्धारित समय-सीमा के अन्दर पूरा किया जाय। श्री मौर्य ने निर्देश दिय कि ठोस व प्रभावी रणनीति बनाकर कार्यों को सम्पादित किया जाय। उन्होने जोर देते हुये कहा कि कार्य धरातल पर नजर आने चाहिए और जनता को अहसास होने चाहिए कि उन्हे सड़कों के माध्यम से आने जाने में सुगमता हो रही है तथा ग्रामीण क्षेत्रों में विशेषकर कृषि विपणन सेवाओं को सड़कों के माध्यम से लाभ मिल रहा है। उन्होने कहा कि जो वित्तीय स्वीकृतियां निर्गत किया जाना बाकी हो, उन्हे समय से निर्गत किया जाय। श्री मौर्य आज अपने सरकारी आवास 7, कालिदास मार्ग पर आयोजित उच्च स्तरीय बैठक में लोक निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। 

उपमुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि सड़क सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये जांए तथा सड़कों पर स्पीड ब्रेकर व रम्बल स्ट्रिप आदि निर्धारित मानकों के अनुरूप ही बनायें जाए। उन्होने हर्बल रोड व हर्बल वाटिकाओं की समीक्षा करते हुये कहा कि हर्बल वाटिकाओं को बहुपयोगी बनाया जाय, वहां पर पौधों की संख्या बढ़ायी जाय तथा इन वाटिकाओं से आम लोगों को कैसे लाभ मिले, इसके लिये भी ठोस व प्रभावी कार्ययोजना बनायी जाय। श्री मौर्य ने निर्देश दिये कि निर्माणाधीन कार्य गतिविधियों की शार्ट वीडियो बनाया जाय तथा कार्य के पहले व कार्य के दौरान एवं कार्य के बाद के फोटो अवश्य लिये जांय। उपमुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि लोक निर्माण विभाग, सेतु निगम व उ0प्र0 राजकीय निर्माण निगम व अन्य मुख्यालयों पर विभाग द्वारा किये गये उल्लेखनीय व उत्कृष्ट कार्यों तथा बड़ी परियोजनाओं की वीडियो फिल्में बनाकर एल0ई0डी0 डिस्पले किया जाय। उन्होने निर्देश दिये कि सड़कों के किनारे विभिन्न विभागों की केबल बिछाने व अन्य कार्यों हेतु डक्ट निर्माण कराया जाय, ताकि किसी विभाग की लाईन डालते समय सड़कों को अनावश्यक रूप से खोदना न पड़े। उन्होने विभागीय मैनुअल्स की पुस्तिका तैयार करने के भी निर्देश दिये।

बैठक में राज्यमंत्री लोक निर्माण विभाग श्री चन्द्रिका प्रसाद उपाध्याय, प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग श्री नितिन रमेश गोकर्ण, सचिव लोक निर्माण विभाग श्री समीर वर्मा, विभागाध्यक्ष लोक निर्माण विभाग श्री राजपाल सिंह, उ0प्र0 सेतु निगम के प्रबन्ध निदेशक श्री अरविन्द श्रीवास्तव, उ0प्र0 राजकीय निर्माण निगम के प्रबन्ध निदेशक श्री सत्य प्रकाश सिंघल, मुख्य अभियंता संजय श्रीवास्तव प्रमुख रूप से मौजूद रहे। सम्पर्क सूत्र-बी0एल0 यादव, सूचना अधिकारी