ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
नारी निकेतन के निरीक्षण में खुलकर सामने आयी अव्यवस्था, हाजिरी बनाकर ग़ायब मिले कर्मचारी, जेल में भरा पानी
July 28, 2020 • परिवर्तन चक्र
 
बलिया। अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम यशपाल व जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव रिचा वर्मा ने जिला जेल का मंगलवार को निरीक्षण किया। निरीक्षण में पाया गया कि जेल के अंदर तक बारिश का पानी लगा हुआ है। जिसे पम्प के सहारे निकाला जा रहा था। इस पर न्यायिक अधिकारियों द्वारा जेल अधीक्षक प्रशांत मौर्य को कोरोना से संक्रमित मरीजों को समय से दवाओं की उपलब्धता कराने, जल्द से जल्द जेल के अंदर से पानी को निकालकर सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने का निर्देश दिया गया। निरीक्षण में डिप्टी जेलर विजय कुमार गौतम उपस्थित थे।
इसके बाद सचिव श्रीमती वर्मा नारी निकेतन निधरिया मे औचक निरीक्षण करने पहुंची। यहाँ अव्यवस्था खुलकर सामने आई। होमगार्ड सहित कुल 8 कर्मचारी गायब मिले।  उपस्थित रजिस्टर देखने पर पता चला कि तीन महिला और तीन पुरुष होमगार्ड द्वारा 28 से लेकर 31 जुलाई तक एडवांस में ही उपस्थिति रजिस्टर पर हस्ताक्षर बनाकर मौके से गायब थे। वही रसोईया अनुपस्थित थी। जिससे बालिकाओं को बीच-बीच में स्वयं ही नाश्ता और भोजन बनाना पड़ता है। इसके अलावा सफाई कर्मी भी वहां अनुपस्थित था। जिससे जगह जगह गंदगी लगा हुआ था। बालिकाओं से बात करने पर पता चला कि बालिका गृह पर नियुक्त महिला डॉक्टर द्वारा समय समय पर नहीं आने से बालिकाओं का परीक्षण नहीं हो पाता है। यही नहीं निकेतन में रह रही मंदबुद्धि की बालिकाओं की देखरेख के लिये के लिए लिए किसी केयरटेकर टेकर की व्यवस्था नहीं है। इस पर उन्होंने सख्त नाराजगी जताई और इसकी सूचना ऊपर तक देने की बात कही। यह निरीक्षण राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ व जिला जज गजेंद्र कुमार के निर्देश पर किया गया था।