ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
मेरठ में 35 करोड़ की फर्जी किताबें छापने का भंडाफोड़, आरोपी बीजेपी नेता फरार
August 23, 2020 • परिवर्तन चक्र

इस मामले में 8 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है जिसमें 4 लोग गिरफ्तार हैं और मुख्य आरोपी सचिन गुप्ता, संजीव गुप्ता सहित 4 लोग अभी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं. पुलिस एक दर्जन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.

-एक दर्जन लोग हिरासत में

-बीजेपी नेता पार्टी से निलंबित

-फैक्ट्री और गोदाम भी सील

मेरठ में 35 करोड़ की फर्जी किताबें छापने का भंडाफोड़, आरोपी बीजेपी नेता फरार इस मामले में 8 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है जिसमें 4 लोग गिरफ्तार हैं और मुख्य आरोपी सचिन गुप्ता, संजीव गुप्ता सहित 4 लोग अभी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं.

मेरठ के परतापुर में एनसीईआरटी की नकली किताबें छापने के मामले ने तूल पकड़ा तो मुख्य आरोपी सचिन गुप्ता के चाचा संजीव गुप्ता को बीजेपी से निलंबित कर दिया गया. संजीव गुप्ता बीजेपी के महानगर उपाध्यक्ष थे. फर्जी किताब छापने के इस मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए महानगर बीजेपी अध्यक्ष मुकेश सिंघल ने निलंबन पत्र जारी किया.

वहीं, इस मामले में 8 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है जिसमें से 4 लोग गिरफ्तार हैं और मुख्य आरोपी सचिन गुप्ता, संजीव गुप्ता सहित 4 लोग अभी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं.

प्रिंटिंग प्रेस के बाहर लगा था संजीव गुप्ता का बोर्ड

थाना परतापुर पुलिस और STF की टीम द्वारा संयुक्त रूप से ये कार्रवाई की गई है. मेरठ पुलिस और STF की संयुक्त टीम की बड़ी कार्रवाई में लगभग 35 करोड़ की अवैध तरीके से छापी जा रही NCERT की किताबे पकड़ी गई थीं. पुलिस और STF अभी भी कार्रवाई कर रही है. अमरोहा के गजरौला में भी छापेमारी कर बड़ी मात्रा में अवैध किताबें पकड़ी गई हैं. जिस प्रिंटिंग प्रेस पर छापा डाला गया था और प्रिंटिंग मशीनों को सील किया था वहां पर बीजेपी के महानगर उपाध्यक्ष संजीव गुप्ता का बोर्ड लगा था.

मेरठ के सपा जिलाध्यक्ष ने एक बयान जारी कर भी बीजेपी के नेताओं की इस मामले में गिरफ्तारी की मांग की है.

35 करोड़ की फर्जी किताबें बरामद

पुलिस एक दर्जन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. मेरठ में एनसीईआरटी की नकली किताब छापने वाले गिरोह का एसटीएफ की टीम ने पर्दाफाश कर दिया है. मेरठ पुलिस और एसटीएफ के जॉइंट ऑपरेशन में करीब 35 करोड़ की NCERT की अवैध किताबें और प्रिंटिंग मशीनरी बरामद हुई है. पुलिस ने फैक्ट्री और गोदाम को सील कर दिया है. साथ ही एक दर्जन से ज्यादा लोग हिरासत में लिए गए हैं.

पुलिस का कहना है कि हिरासत में लिए गए लोगों से पूछताछ करने के बाद अमरोहा के गजरौला में भी छापेमारी की गई है. जहां पर बड़ी मात्रा में अवैध किताबें बरामद हुई हैं. आरोप है कि छापे से पहले कई दस्तावेज जलाए भी गए हैं, जिनकी जांच की जा रही है.