ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
कोरोना वायरस से ठीक हो चुके लोगों के लिए होंगे नए नियम, सरकार का फैसला
July 25, 2020 • परिवर्तन चक्र

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैलता जा रहा है। पिछले 24 घंटों के दौरान 48 हजार 916 मामले (Covid-19 Cases) सामने आए हैं और 757 लोगों की मौत हो गई। इसके साथ ही देश में कुल मरीजों की संख्या 13 लाख से ज्यादा हो गई है। वहीं, 31 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। केंद्र सरकार कोरोना पर काबू पाने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।

इसी कड़ी में अब केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तकनीकी शाखा कोरोना संक्रमण से ठीक हुए लोगों के लिए नए नियम लागू कर सकती है। रिपोर्ट के अनुसार महामारी से ठीक हो चुके कई लोगों को अन्य बीमारियों का खतरा बना हुआ है। ऐसे में सरकार इन लोगों के लिए नए नियम लाने पर विचार कर रही है। बता दें कि देश में करीब 8.5 लाख लोग कोरोना वायरस से ठीक होकर घर लौट चुके हैं।

होंगे नए नियम स्वास्थ्य मंत्रालय के ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी (OSD) राजेश भूषण ने कहा कि मंत्रालय कोरोना संक्रमण से ठीक हुए ऐसे लोगों के लिए नई गाइडलाइंस तैयार कर रहा है, जो किसी अन्य स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों से जूझ रहे हैं। कुछ लोगों को सांस लेने में दिक्कत, लीवर और आंख आदि से जुड़ी समस्याएं आ रही हैं। इनके लिए सरकार अलग से नियम बनाने पर जोर दे रही है। विशेषज्ञ नियम बना रहे हैं कि ऐसे लोगों को कैसे अपना ध्यान रखना चाहिए।

ठीक होने के बाद भी दिखते हैं लक्षण AIIMS में काम कर चुके डॉक्टर जीसी खिलनानी ने बताया कि संक्रमण से ठीक होने के बाद लोगों में बुखार और सांस लेने में परेशानी तो दूर हो जाती है, लेकिन उनमें सुस्ती, नींद न आना, भूख न लगना, शरीर में दर्द रहना और बार-बार बुखार जैसे लक्षण लंबे समय तक रह सकते हैं। कुछ लोगों ने बैचेनी और अवसाद की भी शिकायत की है।

एक हफ्ते लग सकते हैं विशेषज्ञों के मुताबिक, संक्रमण से पूरी तरह ठीक होने में कई हफ्ते लग सकते हैं। जिन लोगों को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत नहीं पड़ती वो एक से तीन सप्ताह में ठीक हो जाते हैं। हालांकि, कुछ मामलों में ठीक होने के कुछ दिन बाद भी छींक, बुखार, थकान जैसे लक्षण रहते हैं। ऐसे मामलों में शरीर के इम्युन सिस्टम को कोरोना से लड़ाई में थोड़ा समय लगता है।