ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
कोरोना की दूसरी लहर की चपेट में कई देश, दोबारा लॉकडाउन का बढ़ा खतरा
September 19, 2020 • परिवर्तन चक्र • कोरोना वायरस

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने यूरोप में कोरोना की दूसरी लहर को लेकर गंभीर चिंता जाहिर की है. WHO का कहना है कि यूरोप में खतरनाक रूप से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं.

इजरायल ने शुक्रवार को देश में दोबारा नेशनल लॉकडाउन लागू कर दिया. तीन हफ्ते तक लोगों पर सख्त पाबंदियां लगाई गई हैं. लोग अपने घरों से एक किमी से दूर नहीं जा सकते. दोबारा नेशनल लॉकडाउन लागू करने वाला इजरायल दुनिया का पहला देश है. लेकिन कई अन्य देश भी कोरोना की दूसरी लहर के खतरे का सामना कर रहे हैं.

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा है कि ब्रिटेन में कोरोना की दूसरी लहर आती दिख रही है. उन्होंने छह महीने तक पाबंदियां लगाने की आवश्यकता जताई है. बोरिस जॉनसन का कहना है कि कोरोना की दूसरी लहर को लेकर ब्रिटेन स्पेन और फ्रांस से 6 हफ्ते पीछे है. उन्होंने कहा कि यह निश्चित है कि ब्रिटेन में दूसरी लहर आएगी.

वहीं, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने यूरोप में कोरोना की दूसरी लहर को लेकर गंभीर चिंता जाहिर की है. WHO का कहना है कि यूरोप में खतरनाक रूप से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं. WHO के क्षेत्रीय निदेशक हंस क्लूज ने कहा कि केस बढ़ने को चेतावनी के तौर पर लेना चाहिए कि आगे क्या होने वाला है. 

हंस क्लूज ने यह भी कहा कि हफ्ते में आने वाले मामले की संख्या उस वक्त से अधिक हो गई है जब मार्च में यूरोप में कोरोना वायरस अपने पीक पर था. यूरोपीय क्षेत्र में हफ्ते में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 3 लाख को पार कर गई.

यूरोप के आधे देशों ने अपने यहां बीते दो हफ्ते में नए मामलों में 10 फीसदी से अधिक बढ़ोतरी दर्ज की है. इनमें से 7 देशों में कोरोना के नए मामले दोगुने हो गए हैं. बता दें कि दुनिया में कोरोना के मामलों की कुल संख्या तीन करोड़ 69 लाख से अधिक हो गई है. जबकि 9 लाख 56 हजार से अधिक लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है.