ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
कोरोना काल में इम्युनिटी बढ़ाने में रामबाण से कम नहीं किचन के ये 5 मसाले
September 11, 2020 • परिवर्तन चक्र • घरेलू नुस्खे

डॉक्टरों के मुताबिक इम्युनिटी अच्छी हो तो फ्लू और वायरल से जुड़े दूसरे रोगों से भी बचा जा सकता है। ऐसे में ये सुनिश्चित करना बेहद ज़रूरी है कि हमारी इम्युनिटी मजबूत बनी रहे।

भारत में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। विशेषज्ञों के अनुसार जिनकी इम्युनिटी कमजोर है, उन्हें कोरोना संक्रमण का खतरा अधिक है। डॉक्टरों के मुताबिक इम्युनिटी अच्छी हो तो फ्लू और वायरल से जुड़े दूसरे रोगों से भी बचा जा सकता है। ऐसे में ये सुनिश्चित करना बेहद ज़रूरी है कि हमारी इम्युनिटी मजबूत बनी रहे।

इसके लिए हमें अपने खान-पान और व्यायाम पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। किचन में कई ऐसे मसाले होते हैं, जो एक अच्छे इम्युनिटी बूस्टर माने जाते हैं। उनसे सिर्फ़ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ता बल्कि हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है। आइये आपको बताते हैं ऐसे ही 5 मसालों के बारे में…

अदरक : अदरक वाली चाय का स्वाद तो हम सभी को भाता है। साथ ही भोजन को स्वादिष्ट बनाने के लिए भी इसका मसाले के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। इसके एंटीबैक्टीरियल गुण शरीर के इम्युनिटी को बढ़ाते हैं। ये सूजन को कम करता है। साथ ही पेट की तकलीफों को भी दूर करता है।

हल्दी : जब कभी हमें चोट लगती है या बीमार पड़ जाते हैं तो हल्दी का दूध पीने की सलाह दी जाती है। ऐसा इसलिए क्योंकि हल्दी हमारे प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत बनाकर हमें जल्दी ठीक होने में मदद करता है। टेक्सास विश्वविद्यालय के एक शोध के मुताबिक़ हल्दी में मौजूद नारंगी-पीला घटक ‘करक्यूमिन’ हमारे शरीर के कोशिकाओं के लिए इम्युनोमोडुलेटरी एजेंट की तरह काम करता है। करक्यूमिन एलर्जी, अस्थमा, हृदयरोग, मधुमेह आदि के मरीजों के लिए भी फायदेमंद है।

हींग : हींग में एंटीवायरल तत्व होते हैं जो हमारे प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूती प्रदान करते हैं। यह हमें फ्लू, सर्दी, सुखी खांसी, गले में खराश आदि से बचाने का काम करता है। इसमें एंटीबायोटिक, एंटीइन्फ्लेमेटरी गुण भी होते हैं।

काली मिर्च : खाने में काली मिर्च का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए। ये हमारे शरीर में मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया को मारता है। साथ ही यह प्रोबायोटिक भी है। प्रोबायोटिक यानी यह हमारे आंतों को हेल्दी बनाए रखने में मददगार गुड बैक्टीरिया को बढ़ाता है। काली मिर्च में एंटी इन्फ्लेमेटरी, एंटी फंगल और एंटी ऑक्सीडेंट्स होते हैं जो इम्यूनिटी बूस्ट करते हैं।

अजवाइन : इसका सेवन हमें कई रोगों से बचाता है। पेट दर्द में अजवायन फायदेमंद होता है, साथ ही ये हमारी इम्युनिटी को भी बढ़ाता है। यह हमें बैक्टिरियल और वायरल इंफेक्शंस से बचाने में सहायक होता है। आप एक चम्मच अजवाइन को साफ़ पानी में उबाल लें और फिर उसका सेवन करें। इससे बहुत लाभ मिलता है।