ALL ताजा खबरें राष्ट्रीय समाचार परिवर्तन चक्र स्पेशल शिक्षा समाचार दुनिया समाचार क्रिकेट समाचार मनोरंजन समाचार पॉलिटिक्स समाचार क्राइम समाचार साहित्य संग्रह
खेती आज भी सबसे उत्तम कार्य, मन से करने की है जरूरत : केशव प्रसाद मौर्य
February 17, 2020 • परिवर्तन चक्र

जैविक खेती को दिया जाए बढ़ावा           

लखनऊ: 17 फरवरी 2020 । उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने देश ही नहीं दुनिया में ऑर्गेनिक खेती को बढ़ावा देने की आवश्यकता पर बल दिया है।  उन्होंने कहा  कि इसकी पूर्ति केवल भारत ही कर सकता है और भारत ही करने में सक्षम भी है ।उन्होंने विश्वास दिलाया कि जैविक खेती को बढ़ावा दिए जाने हेतु जो प्रयास किए जा रहे है  ,सरकार भी उसमें अपना पूर्ण सहयोग प्रदान करेगी, लेकिन समाज का भी इसमें बहुत बड़ा योगदान होना चाहिए । उन्होंने कहा कि समाज में ऐसे उदाहरण  हैं जिन्होंने खेती करके अपनी आए तो बढ़ाई ही है, देश व समाज की उन्नति करने में अपना योगदान देते हुए देश के गौरव को बढ़ाया है। श्री मौर्य आज डॉक्टर भीमराव अंबेडकर राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय के अंबेडकर सभागार में एकल अभियान द्वारा आयोजित अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन "परिवर्तन कुम्भ" को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे ।

ऑर्गेनिक खेती को बढ़ावा देने तथा अन्य कुटीर उद्योगों का बढ़ावा देने के लिए देश के विभिन्न क्षेत्रों से आए लोगों के अनुभवों को साझा करते हुए उन्होंने कहा कि इससे देश  स्वावलंबन की ओर बढ़ रहा है । उन्होंने कहा कि जैविक खेती व अन्य कार्यो के माध्यम से जिन लोगों ने अच्छे कार्य किए हैं, उनसे हम सबको न केवल प्रेरणा लेनी है बल्कि उसे आत्मसात भी करना है।
 

श्री मौर्य ने अपने ओजपूर्ण सम्बोधन मे कार्यक्रम आयोजकों और सहयोगियों  मे एक नई ऊर्जा और नए उत्साह का संचार करते हुए कहा निश्चित ही उनका कार्य सराहनीय है और आगे चलकर ग्राम्य विकास के क्षेत्र में अनुकरणीय उदाहरण पेश होंगे और ग्रामों के विकास  से ही देश का विकास संभव है। उन्होंने ऑर्गेनिक खेती में सरकार के साथ समाजसेवियों और जनता को भी अपना हाथ बटाने की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि इस सम्बन्ध मे उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा  हर सम्भव सहायता जाएगी । 

जैविक खेती औद्यानिक खेती  हेतु किसानो को दिये जा रहे प्रशिक्षण, वर्षा जल के संचयन, काष्ठ कला व अन्य क्रियाकलापों में रोल मॉडल बन चुके देश के  विभिन्न हिस्सों से आए लोगों को उन्होंने सम्मानित किया। एकल अभियान के तहत जैविक खेती, पोषण वाटिका ग्रामोत्थान ,महिला स्वावलंबन, युवा सशक्तिकरण, कंप्यूटर शिक्षा आदि के बारे में दिखाई गई डॉक्यूमेंट्री फिल्म की भी सराहना की ।इस अवसर पर तमाम स्टाल/ प्रदर्शनी लगाई गई ।उन्होंने कहा इस परिवर्तन कुम्भ से स्वच्छ भारत ,समर्थ भारत, व स्वस्थ भारत का सकारात्मक संदेश आम जनता में जा रहा है। और ग्रामोत्थान के साथ-साथ राष्ट्र उत्थान की दिशा में इसके माध्यम से अच्छे कार्य किए जा रहे हैं। दूर दूर से आए लोगों में एक नई ऊर्जा और एक नए उत्साह का संचार करते हुए उन्होंने कहा कि यहां से  शिक्षा व ज्ञान लेकर लोग अपने अपने क्षेत्र मे जाकर इसे बढा़वा देने का कार्य करे।