ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
जानिये कैसा होना चाहिए यूरिक एसिड के मरीजों का नाश्ता
September 14, 2020 • परिवर्तन चक्र • स्वास्थ्य

पोटैशियम यूरिक एसिड को यूरिन के माध्यम से बाहर निकालने में मदद करता है। केला पोटैशियम के समृद्ध स्रोतों में से एक माना जाता है

शरीर के जोड़ों और टिश्यूज में यूरिक एसिड की अधिकता से कई लोगों को गाउट नाम की बीमारी हो जाती है। लापरवाह लाइफस्टाइल और अनहेल्दी डाइट की वजह से शरीर में यूरिक एसिड का स्तर हाई रहने की समस्या काफी आम हो चुकी है। यूरिक एसिड नॉर्मली खून के जरिए किडनी तक पहुंचता है और यूरिन के मार्ग से बाहर निकल जाता है। लेकिन जब शरीर में इस एसिड की मात्रा ज्यादा हो जाती है तो कई अन्य स्वास्थ्य समस्याओं का खतरा बढ़ जाता है। बता दें कि किडनी रोग, मोटापा, डायबिटीज और उच्च रक्तचाप जैसी घातक बीमारियों का खतरा भी उन लोगों में अधिक होता है जिनके शरीर में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ा हुआ हो।

अपनी जीवन शैली में सुधार लाकर और खानपान के प्रति सतर्कता बरतकर यूरिक एसिड की मात्रा को काबू में रखा जा सकता है। स्वस्थ जीवन जीने के लिए हेल्दी नाश्ता अति आवश्यक है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि रोजाना समय से नाश्ता करके लोग कई बीमारियों की चपेट में आने से बच सकते हैं।

ऐसा होना चाहिए यूरिक एसिड के मरीजों का नाश्ता :

इन मरीजों के लिए ये बेहद जरूरी है कि उनके शरीर से टॉक्सिक पदार्थ बाहर निकलें। आमतौर पर ये कार्य किडनी का होता है, लेकिन शरीर में इस एसिड की अधिकता से किडनी प्रभावित होती है और ढ़ंग से फिल्टर करने में असमर्थ हो जाती है।

ऐसे में हेल्थ एक्सपर्ट्स का मानना है कि अगर लोग रेशेदार खाद्य पदार्थ जो फाइबर्स से भरपूर हों, उनका सेवन करेंगे तो फायदा होगा। उनके अनुसार गाजर, खीरा, सेब, संतरा और अजवाइन जैसे फाइबरयुक्त खाद्य पदार्थों के इस्तेमाल से मल के रास्ते पेट की गंदगी बाहर निकल जाती है।

पानी को दें अहमियत :

हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार रोजाना 8 से 10 गिलास पानी से शरीर हाइड्रेटेड रहता है जिससे किडनी को यूरिक एसिड को बाहर निकालने में मदद मिलती है। ऐसे में हाई यूरिक एसिड के मरीजों को हमेशा अपने साथ पानी का बोतल रखना चाहिए।

ये खाद्य पदार्थ भी हैं जरूरी :

नींबू और आंवला जैसे विटामिन सी युक्त फूड आइटम यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में मददगार हैं। शरीर में यूरिक एसिड के बढ़ते स्तर को कम करने में अजवाइन भी बहुत कारगर है। इसमें ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है जो यूरिक एसिड की अधिकता के कारण होने वाले जोड़ों के दर्द को दूर करने में सहायक है। इसके अलावा, केला, अंगूर और अनार जैसे फल भी यूरिक एसिड को काबू करने में मदद करता है।