ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
डायबिटीज रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद है 'पनीर का फूल', ब्लड शुगर को कंट्रोल करने का है रामबाण नुस्खा
September 11, 2020 • परिवर्तन चक्र • घरेलू नुस्खे

क्या आपने \'पनीर के फूल\' के बारे में सुना है? इसे पनीर डोडा भी कहते हैं। ये वो पनीर नहीं है, जिसे दूध से बनाया जाता है। बल्कि ये पनीर एक तरह का पौधा है, जिसके फूल में चमत्कारी औषधीय गुण पाए जाते हैं। ये पनीर के फूल डायबिटीज रोगियों के लिए सबसे असरदार आयुर्वेदिक इलाज हैं। डायबिटीज आज एक ऐसी बीमारी बन चुकी है, जिससे दुनिया के सबसे ज्यादा लोग परेशान हैं। डायबिटीज होने पर व्यक्ति के खून में शुगर की मात्रा बढ़ने से उसे कई तरह की परेशानियां होने लगती हैं। मगर पनीर के फूल के प्रयोग से खून में घुला ग्लूकोज (ब्लड शुगर) आसानी से कंट्रोल किया जा सकता है।

डायबिटीज कंट्रोल करने के अलावा पनीर का फूल अन्य कई बीमारियों में भी फायदेमंद होता है। ये फूल नींद न आने की समस्या, अस्थमा और मूत्रवर्धक होता है। आइए आपको बताते हैं पनीर के फूल के फायदे और डायबिटीज कंट्रोल करने में इसके इस्तेमाल का सही तरीका।

डायबिटीज को कैसे कंट्रोल करता है पनीर का फूल? पनीर का फूल टाइप 2 डायबिटीज रोगियों के लिए असरदार इलाज है। दरअसल पनीर के फूल का सेवन करने से शरीर इंसुलिन का बेहतर उपयोग कर पाता है, जिसके कारण ब्लड में शुगर के घुलने की प्रक्रिया धीमी हो जाती है। इसके अलावा पनीर के फूल आपके पैंक्रियाज (अग्नाशय) को स्वस्थ रखते हैं। पैंक्रियाज ही वो अंग है, जो इंसुलिन हार्मोन बनाता है। इस फूल के रोजाना इस्तेमाल से डायबिटीज रोगी अपना ब्लड शुगर कंट्रोल में रख सकते हैं और स्वस्थ जिंदगी जी सकते हैं।

कहां मिलेगा पनीर का फूल? आमतौर पर पनीर का फूल आयुर्वेदिक औषधियों और जड़ी-बूटियों की दुकानों में आसानी से मिल जाता है। इसके अलावा आजकल ऑनलाइन स्टोर पर भी ये फूल उपलब्ध हैं और वहां से भी मंगाए जा सकते हैं। इसे आप पनीर का फूल या पनीर डोडी के नाम से खरीद सकते हैं। ये छोटे-छोटे महुआ जैसे फूल होते हैं, जिनका स्वाद खाने में मीठा होता है।

कैसे करें पनीर के फूल का इस्तेमाल पनीर के फूल का इस्तेमाल बहुत आसान है। इसके लिए पनीर के 7-8 फूलों (डोडा) को रात में किसी कांच के ग्लास में पानी भरकर भिगो दें। ध्यान दें कांच के ग्लास या किसी अन्य बर्तन का ही इस्तेमाल करें। रात भर इन फूलों को पानी में भीगने दें। सुबह उठने के बाद पनीर के फूलों को छलनी की मदद से छान लें और इसके पानी को बासी मुंह खाली पेट पिएं। यह भी ध्यान रखें कि पनीर डोडा का पानी पीने के बाद 1 घंटे तक आपको कुछ भी खाना-पीना नहीं है। 1 घंटे बाद ही आप ब्रेकफास्ट करें।

डायबिटीज को कंट्रोल करने के अन्य टिप्स किसी भी औषधि या नुस्खे से डायबिटीज को कुछ हद तक कंट्रोल किया जा सकता है, मगर इसे पूरी तरह ठीक नहीं किया जा सकता है। इसलिए आपको अपने डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए कुछ अन्य बातों का भी ध्यान रखना चाहिए।

अपने मोटापे को कंट्रोल में रखें क्योंकि मोटापा डायबिटीज को ठीक होने से रोकता है। ब्लड शुगर को बढ़ने से रोकने के लिए आप मीठी चीजों से बिल्कुल दूर रहें और इन्हें न खाएं। रोजाना कम से कम 30 मिनट पैदल चलें या हल्के-फुल्के एक्सरसाइज करें। इससे शरीर ग्लूकोज का इस्तेमाल एनर्जी के तौर पर कर लेता है, जिससे ब्लड शुगर नहीं बढ़ता है। अपने ब्लड शुगर पर नजर रखें और किसी भी तरह की परेशानी होने पर डॉक्टर से मिलें। घरेलू नुस्खे आपके ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में थोड़ा समय लगाते हैं, इसलिए इमरजेन्सी स्थिति में इनके बजाय एलोपैथिक दवाओं और डॉक्टर की बताई सलाह लें।