ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
CPIM के वरिष्ठ नेता श्यामल चक्रवर्ती का कोरोना से निधन 
August 6, 2020 • परिवर्तन चक्र

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना वायरस का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है। देश में अब तक कोरोना वायरस से 19 लाख के करीब लोग संक्रमित हो चुके हैं। जबकि इस घातक वायरस की वजह से 40 हजार से ज्यादा लोगों ने अपनी जान गंवा दी है। क्या आम क्या खास हर किसी को कोरोना वायरस ने अपनी चपेट में ले लिया है। यही वजह है कि हर किसी की नजर अब कोरोना वैक्सीन पर टिकी हैं।

इस बीच कोरोना को लेकर एक और बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल पश्चिम बंगाल में CPI(M) के वरिष्ठ नेता श्यामल चक्रवर्ती का 76 साल की उम्र में निधन हो गया। श्यामल चक्रवर्ती कोरोना वयारस से संक्रमित होने के बाद अस्पताल में इलाज करवा रहे थे।

कोरोना वायरस ने एक बार फिर देश के दिग्गज नेता की जान ले ली। सीपीएआईएम के वरिष्ठ नेता श्यामल चक्रवर्ती को 30 जुलाई को कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। तभी से श्यामल चक्रवर्ती की तबीयत खराब चल रही थी। उन्हें सांस लेने भी दिक्कत हो रही थी।

श्यामल चक्रवर्ती ट्रेड यूनियन के भी जाने-माने नेता रहे। यही वजह है कि तृणमूल कांग्रेस की नेता और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है। सीएम ने बकायदा ट्वीट कर लिखा- 'पूर्व नेता, पूर्व सांसद और बंगाल के पूर्व मंत्री श्यामल चक्रवर्ती के निधन से दुखी हूं। उनके परिवार, दोस्तों और समर्थकों के प्रति मेरी संवेदना है।'

सीपीआईएम के अन्य नेता के मुताबिक श्यामल ने 6 अगस्त को दोपहर में अंतिम सांस ली। वे पिछले कई दिनों से वेंटिलेटर पर ही थे। आपको बता दें कि श्यामल चक्रवर्ती की बेटी उशमी बांग्ला अभिनेत्री भी हैं। वहीं पार्टी की ओर से भी ट्वीट के जरिए वरिष्ठ नेता के निधन पर दुख प्रकट किया गया। CPIM ने ट्वीटर कर लिखा- पार्टी श्यामल चक्रवर्ती के निधन पर गहरा दुख व्यक्त करती है। कॉमरेड श्यामल एक अनुभवी ट्रेड यूनियन नेता, पूर्व मंत्री और सीपीआई (एम) के केंद्रीय समिति के सदस्य रहे। देश में मजदूर वर्ग और वामपंथी आंदोलन की मुखर आवाज चली गई।

श्यामल चक्रवर्ती का सफर सीपीआईएम के नेता श्यामल चक्रवर्ती वर्ष 1982 से 1996 करीब 14 से 15 वर्ष तक तीन बार राज्यसभा के सांसद चुने गए। आपको बात दें कि पिछले दिनों टीएमसी के नेता तमोनोश घोष का कोरोना की वजह से निधन हो गया था। प्रदेश में कोरोना के चलते ये दूसरे नेता के मौत की खबर है।