ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
चीन में इंसान ने बनाया कोरोना वायरस ? चीनी वैज्ञानिक ने किया खुलासा, कहा- मेरे पास है ठोस सबूत
September 12, 2020 • परिवर्तन चक्र • कोरोना वायरस

नई दिल्ली। दुनिया में फैले कोरोना वायरस को लेकर हमेशा से चीन पर सवाल उठते आ रहे हैं। अमेरिका समेत कई देश कोरोना की उत्पत्ति के लिए चीन को जिम्मेदार ठहरा चुके हैं, लेकिन चीन ने इन सभी आरोपों को गलत और झूठ करार दिया है। लेकिन, अब खुद चीनी वैज्ञानिक ने कोरोना वायरस की उत्पत्ति को लेकर बड़ा खुलासा किया है। चीन की महिला वीरोलॉजिस्ट लि-मेंग यान ने दावा किया है कि कोरोना वायरस मानव निर्मित। है और इसके पर्याप्त सबूत हैं जिसे वह जल्द पेश करेंगी। उन्होंने चीन सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि कोरोना वायरस को लेकर चीन सच नहीं बता रहा है, वह बहुत कुछ छुपा रहा है।

मानव निर्मित वायरस है कोरोना महिला वीरोलॉजिस्ट लि-मेंग यान ने कहा, मैं दावे के साथ कह सकती हूं कि यह एक चीन द्वारा मानव निर्मित वायरस है। मेरे पास इसके सबूत हैं और मैं ये साबित कर दूंगी। उन्होंने कहा कि कोरोना वुहान के मीट मार्केट से नहीं आया है, क्योंकि यह मीट मार्केट एक स्मोक स्क्रीन है। यह वायरस कोई प्रकृति की देन नहीं है। आपको बता दें कि लि-मेंग यान चीनी सरकार की धमकी के बाद अमेरिका में रह रही हैं।

कहां से कोरोना वायरस? उनसे जब पूछा गया कि आखिर कोरोना वायरस आया कहां से? इस पर उन्होंने कहा, यह खतरनाक वायरस वुहान के लैब से आया है और यह मानव निर्मित है। उन्होंने कहा कि इस वायरस का जीनोम अनुक्रम एक मानव फिंगर प्रिंट की तरह है और इसके आधार पर ही वे साबित कर देंगी कि यह एक मानव निर्मित वायरस है। उन्होंने कहा कि किसी भी वायरस में मानव फिंगर प्रिंट की उपस्थिति यह बताने के लिए काफी है कि इसकी उत्पत्ति मानव द्वारा की गई है।

चीनी सरकार में गंभीर आरोप लि-मेंग ने चीन सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि धमकी के बाद मैं हांगकांग छोड़कर अमेरिका चली गई। मेरी सारी निजी जानकारी सरकारी डेटाबेस से मिटा दी गई और मेरे साथियों से मेरे बारे में अफवाह फैलाने के लिए कहा गया। चीनी सरकार मुझे झूठा साबित करने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपना रही है और हत्या करने तक का आरोप लगा रही है, लेकिन मैं अपने लक्ष्य से पीछे हटने वाली नहीं हूं।