ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
ब्रेकफास्ट में ये फूड आपके पाचन के लिए खड़ी कर सकते हैं समस्या, सेवन से पहले जान लें जानकारी
November 8, 2020 • परिवर्तन चक्र • स्वास्थ्य

हेल्दी ब्रेकफास्ट दिन की ऊर्जा जरूरतों को पूरा करता है

गलत फूड का चयन पाचन समस्या को पैदा कर सकता है

ब्रेकफास्ट को दिन का सबसे अहम भोजन समझा जाता है. सुबह में खाया जानेवाला फूड आपको शारीरिक और मानसिक रूप से प्रभावित करता है. गलत फूड का चयन पाचन समस्या को पैदा कर सकता है. इसलिए, सुबह में कुछ खास तरह के खाद्य सामग्री का सेवन करने से बचना चाहिए.

कच्ची सब्जियां :

डाइट में सलाद शामिल करना अच्छा है लेकिन सुबह में इस्तेमाल करने से परहेज करना चाहिए. कच्ची सब्जियों में भरपूर फाइबर होता है जिसका सुबह में पचना मुश्किल हो सकता है. सुबह में कच्ची सब्जियों का सेवन गैस, ब्लोटिंग और पेट दर्द का कारण बन सकता है.

खट्टे फल :

खट्टे फल जैसे संतरा और टमाटर में विटामिन सी की मात्रा प्रचुर होती है. ये आपकी स्किन और इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए मुफीद होता है. लेकिन तीखे फल पेट में एसिड के उत्पादन को बढ़ाने वाले माने जाते हैं. इन फलों का सुबह में सेवन से जलन और गैस्ट्रिक की समस्या हो सकता है.

कॉफी :

एक गर्म कप कॉफी के साथ दिन की शुरुआत करना सामान्य नजर आता है लेकिन कुछ लोगों को इसके जोखिम का सामना करना पड़ सकता है. खाली पेट कॉफी पीने से पेट में अम्लीय रस का उत्पादन बढ़ सकता है. जिससे पेट में सूजन (गैस्ट्राइटिस) होने का खतरा रहता है.

सुगंधित ड्रिंक्स :

एक ग्लास जूस के साथ दिन शुरू करने से बेहतर क्या हो सकता है? लेकिन पैक जूस आम तौर से शुगर से भरपूर होता है. खुद को शुगर से सुबह में भरना आपके अग्न्याशय के लिए मुफीद साबित नहीं हो सकता क्योंकि अग्नाशय अभी भी लंबे समय तक आराम के बाद भी सक्रिय रहता है. अग्न्याशय, छोटी आंत के ऊपरी हिस्से के बगल में पेट की एक बड़ी ग्रंथि को कहा जाता है.

केला :

केला दूसरा फल है जिसको सुबह में इस्तेमाल करने से परहेज करना चाहिए. ये पीला फल मैग्नीशियम और पोटैशियम की उच्च मात्रा रखता है. जिसको खाली पेट सेवन करने पर खून में दो मिनरल के असंतुलन का कारण बनता है.

योगर्ट :

योगर्ट आंत के अनुकूल सही समय पर इस्तेमाल करने से पाचन बढ़ानेवाला फूड होता है. योगर्ट में पाया जानेवाला लैक्टिक एसिड बैक्टीरिया सुबह में इस्तेमाल करने पर उच्च अम्लीय सामग्री के कारण अप्रभावी होता है. बेहतर है कि योगर्ट का इस्तेमाल सुबह के बजाए बाद में किया जाए.

साभार-एबीपी न्यूज़