ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
बिना लक्षण वाले कोरोना मरीजों के लिए आहार ही है बेस्ट दवा, जानें कोविड पॉजिटिव मरीजों को क्या खाना चाहिए?
September 2, 2020 • परिवर्तन चक्र

देश-दुनिया में अभी भी कोरोना थमा नहीं है। हर दिन 60 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं। लेकिन अच्छी बात ये है कि लोग बड़ी संख्या में ठीक हो रहे हैं और ज्यादातर लोग एसिम्पटोमैटिक यानी बिना किसी लक्षण वाले हैं। कोरोना वायरस के एसिम्पटोमैटिक मरीजों के लिए ज्यादातर राज्यों ने होम आइसोलेशन की परमिशन दी है। ऐसे में अगर कोई व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव है, लेकिन उसमें कोई लक्षण नहीं उभर रहे हैं, तो उसे आमतौर पर किसी दवा की जरूरत नहीं है और ऐसे ज्यादातर मरीज 14 से 21 दिन की अवधि पूरी हो जाने के बाद अपने आप ही निगेटिव हो जाते हैं। लेकिन इस होम आइसोलेशन के दौरान अपने शरीर को वायरस से लड़ने के लिए पर्याप्त शक्ति देना बहुत जरूरी है। डॉक्टर्स का मानना है कि एसिम्पटोमैटिक मरीजों के लिए उनका आहार ही उनकी दवा है। दरअसल सही आहार के द्वारा मरीज के शरीर में इम्यून सिस्टम को मजबूत किया जा सकता है, जिससे शरीर बिना किसी दवा के स्वयं की शक्ति से ही वायरस से लड़कर जीत सकता है। आइए आपको बताते हैं कि कोविड पॉजिटिव होने पर और कोई लक्षण न दिखने पर व्यक्ति को क्या खाना चाहिए।

होम आइसोलेशन में सही रखें खानपान सिद्धार्थनगर के वरिष्ठ चिकित्साधिकारी डॉ. राम आशीष बताते हैं, "एसिम्पटोमैटिक मरीजों को अक्सर दवा की जरूरत नहीं पड़ती है या कुछ सामान्य दवाओं की जरूरत पड़ती है, जो उन्हें कोविड सेंटर से ही दे दी जाती हैं। लेकिन इस दौरान जब मरीज होम आइसोलेशन में है, तो उसका खानपान इस वायरस से लड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। सही पोषक तत्वों की जरूरत पूरी करके कुछ सप्ताह में ही एसिम्पटोमैटिक मरीज पूरी तरह रिकवर हो सकते हैं।"

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए पाचनतंत्र का स्वस्थ होना जरूरी डॉ. आशीष बताते हैं कि हमारी इम्यूनिटी ज्यादातर खानपान पर इसलिए निर्भर करती है क्योंकि हमारे इम्यून सिस्टम का 70% हिस्सा हमारे पाचनतंत्र में होता है। इसलिए कोरोना के एसिम्पटोमैटिक मरीजों को होम आइसोलेशन के दौरान अपने खाने में कुछ खास चीजों को शामिल करना चाहिए, जिससे उनकी इम्यूनिटी बढ़े और शरीर को शक्ति मिले।"