ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
बिजली बिल नहीं देने पर संपत्ति होगी कुर्क, 5000 से अधिक वालों को नोटिस
July 26, 2020 • परिवर्तन चक्र

ब्यावरा (मध्य प्रदेश)। कोरोना संक्रमण काल में गड़बड़ाई बिजली कंपनी की वूसली को लेकर अब सख्ती की जा रही है। इसे लेकर न सिर्फ वसूली की जा रही बल्कि पहली बार कुर्की नोटिस भी भेजे जा रहे हैं। बिजली कंपनी ने बकायादारों पर शिकंजा कसने सतत अभियान चलाया है।

अभी तक करीब 320 बकायादारों के कनेक्शन काटे जा चुके हैं, ये वे उपभोक्ता हैं जिनका 2000 से अधिक का बकाया था। इसके अलावा 5000 से अधिक बकाया बिल वालों के नाम का कुर्की नोटिस मध्य प्रदेश भू-राजस्व संहिता 1959 की धारा-146 के तहत भेजे जा रहे हैं।

इस प्रकार के तीन नोटिस बार भेजे जाएंगे इसके बाद सीधे संबंधित व्यक्ति की संपत्ति कुर्क कर ली जाएगी। यह पहला अवसर होगा जब बैंक, इनकम टैक्स, राजस्व विभाग के अलावा बिजली कंपनी भी कुर्की की कार्रवाई करेगी। लगातार जारी कनेक्शन काटने की कार्रवाईके बीच लोग बकाया जमा करने भी पहुंच रहे हैं। वहीं, लोगों द्वारा मनमाने बिल का आरोप भी बिजली कंपनी पर लगातार लगाया जा रहा है।

लॉकडाउन के दौरान दिए गए औसत बिजली बिलों में काफी गड़बड़झाला हुआ है, इसी कारण लोग भी परेशान हैं। और शासन की राहत भरी योजना सिर्फ घोषणा! शासन द्वारा जनता को दिया गया बिजली के बिल माफी का आश्वासन हर बार की तरह घोषणा तक ही सीमित रह गया है। 100 रुपए और 400 रुपए तक के आंकड़े में उलझाने के बाद किसी ने उस योजना की ओर ध्यान नहीं दिया। जिन बड़े सरचार्ज में माफी का दावा किया गया उसमें भी किश्तों में वसूली का प्रावधान रख दिया है।

जिससे उपभोक्ताओं के साथ सीधा छलावा ही हुआ है। वरिष्ठ कार्यालय की ओर से वसूली के सख्त निर्देश दिए गएहैं, इसी के चलते यह कार्रवाई की जा रही है। पांच हजार से अधिक बकाया वालों को कुर्की नोटिस और दो हजार तकके बकायादारों के कनेक्शन काटे जा रहे हैं।

-भानु तिवारी, एई, एमपीईबी, ब्यावरा