ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
भारत में कोरोना मरीजों की संख्या 8 लाख के करीब, सरकार बोली-क्यों नहीं घबराने की कोई बात?
July 10, 2020 • परिवर्तन चक्र

नई दिल्ली। देश में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार कोरोना रोगियों की संख्या बढ़कर 8 लाख के पास पहुंच गई है। हालांकि सरकार ने इसको चिंता की बात नहीं बताया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन ने शुक्रवार को बताया कि देश में कोरोना रिकवरी रेट अधिक है, जिसके चलते मृत्यु दर काफी कम बनी हुई है। यही वजह है कि कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ने से चिंता की कोई बात नहीं है। इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने देश में कोरोना के कम्युनिटी ट्रांसमिशन होने की बात से इनकार किया है।

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट 63 प्रतिशत है, जबकि मृत्यु दर केवल 2.72 प्रतिशत ही है। हर्षवर्धन ने कहा कि फिलहाल कोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। सरकान ने टेस्टिंग बढ़ा दी है, ताकि कोरोना केसों को पहचान हो सके और उनको इलाज मुहैया कराया जा सके। उन्होंने कहा कि देश में रोजना करीब 2.7 लाख कोरोना टेस्ट किए जा रहे हैं। हर्षवर्धन ने यह भी कहा कि हम अभी तक कम्युनिटी ट्रांसमिशन की स्टेज में नहीं पहुंचे हैं। हालांकि कुछ जगहों पर कोरोना केसों की संख्या अधिक जरूर रही है।

आपको बता दें कि भारत ने शुक्रवार को कोरोना वायरस के सबसे अधिक मरीज देखे। पिछले 24 घंटे में कोरोना के सर्वाधिक 26,506 नए मामले रिकॉर्ड किए गए। जिसके साथ ही देश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 7,93,802 हो गए हैं। एक दिन में कोविड-19 के 475 मरीजों की मौत के साथ इस बीमारी से मरने वाले लोगों की संख्या भी 21,604 हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि देश में अब तक 1.1 करोड़ से अधिक सैंपलों की जांच हो चुकी है।