ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
बेटी के अपहरण का किया विरोध तो दबंगों ने काट दिया मां का सिर
October 30, 2020 • परिवर्तन चक्र

बिहार के सीतामढ़ी जिले में बेटी के अपहरण का विरोध करना ​महिला को भारी पड़ गया. गांव के ही दबंगों ने महिला का सिर तलवार से काटकर धड़ से अलग कर दिया गया. घटना को अंजाम देने के बाद सभी आरोपी मौके से फरार हो गए. 

बिहार के सीतामढ़ी जिले में बेटी के अपहरण का विरोध करना ​महिला को भारी पड़ गया. गांव के ही दबंगों ने महिला का सिर तलवार से काटकर धड़ से अलग कर दिया गया. घटना को अंजाम देने के बाद सभी आरोपी मौके से फरार हो गए. 

बथनाहा थाना क्षेत्र के कोईली गोट गांव के रहने वाले रामवृक्ष ठाकुर के घर पर गांव के ही दबंग सुरेंद्र शर्मा ने अपने साथियों के साथ मिलकर हमला कर दिया. दबंग उनकी बेटी को जबरन अपने साथ ले जाने लगे. जब ये नजारा रामवृक्ष की पत्नी प्रेमा ने देखा, तो वो सुरेंद्र शर्मा और उसके साथियों का विरोध करने लगीं. बेटी को बचाने के लिए प्रेमा बदमाशों से भिड़ गईं. इस दौरान उन लोगों ने तलवार से प्रेमा की गर्दन पर वार कर दिया जिस वजह से सिर धड़ से अलग हो गया. 

इसके बाद आरोपी मौके से फरार हो गए. घटना की जानकारी मिलते ही थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई. पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण करने के साथ ही मामले की जांच शुरू कर दी है. वहीं मृतका की बेटी काजल ने पुलिस को बताया कि गांव के ही सुरेन्द्र शर्मा, रामू, शत्रुघ्न शर्मा, राघवेंद्र कुमार, किशन कुमार और कपिलेश्वर शर्मा काले रंग की दो बाइक पर सवार होकर उसके घर आए थे. आरोपियों द्वारा उसे जबरन अपने साथ ले जाया जा रहा था. मां ने विरोध किया, तो आरोपियों ने तलवार से मां का गला काट दिया.

वहीं इस मामले में थानाध्यक्ष पंकज कुमार ने बताया कि अपराधियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा. उन्होंने बताया कि हमलावरों का रामवृक्ष के परिवार से पुराना विवाद चला आ रहा है. इतना ही नहीं प्रेमा देवी के बयानों के आधार पर इन अपराधियों के खिलाफ थाने में दो एफआईआर भी दर्ज हैं. इन दोनों मुकदमों में आरोपियों द्वारा सुलह कराने का दबाव भी बनाया जाता रहा है.