ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
बलिया : कोरोना टीकाकरण के लिए विभाग ने शुरू की अग्रिम तैयारी
October 28, 2020 • परिवर्तन चक्र • बलिया समाचार

जुटाई जा रही स्वास्थ्य कर्मियों की जानकारी

बलिया। कोविड-19 की रोकथाम संबंधी टीकाकरण के लिए अग्रिम तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। टीका (वैक्सीन) आने के बाद सबसे पहले सरकारी और निजी चिकित्सालय में कार्यरत तकनीकी और गैर तकनीकी स्वास्थ्य कर्मियों को लगाया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग ने इसके लिए सूची तैयार करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। 

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी  /कोरोना के नोडल अधिकारी डॉ हरिनन्दन प्रसाद ने बताया कि कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण को लेकर वैक्सीन कब आएगी, इस विषय पर अभी कोई फैसला तो नहीं हो सका है, लेकिन स्वास्थ्य विभाग की ओर से इसे लगाए जाने की तैयारी शुरू कर दी गई है। सबसे पहले सरकारी/गैर सरकारी डाक्टर व स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण किया जाना है। इसके लिए डेटाबेस भी तैयार किया जा रहा है। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (प्रतिरक्षण) डॉ ए के मिश्रा का कहना है कि वैज्ञानिकों की टीम वैक्सीन बनाने में लगी हुई है। माना जा रहा है कि अगले साल के शुरूआती महीनों में वैक्सीन आने की संभावना है जिसके लिए सबसे पहले उसे सरकारी /गैर सरकारी डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ को लगाया जाना है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से इस दिशा में तैयारी शुरू करना है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ जितेन्द्र पाल ने सभी प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बताया कि प्रदेश स्तर से भेजे गये पत्र के माध्यम से अवगत कराया है कि कोविड 19 टीकाकरण के लिए कार्यरत सभी स्वास्थ्य कर्मियों के बारे में डेटा बेस  31 अक्टूबर तक सुरक्षित कर लिया जाये। स्वास्थ्य विभाग के इस कदम से माना जा रहा है कि वैक्सीन तैयार होने की दिशा में कार्यवाही तेजी से चली रही है और जल्द ही सार्थक परिणाम आने की उम्मीद लगाई जा रही है। 

जिले में जिलाधिकारी होगे नोडल अधिकारी

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन-उत्तर प्रदेश के निदेशक को प्रदेश स्तर का नोडल अधिकारी बनाया गया है, जबकि जिले स्तर पर जिलाधिकारी को नोडल अधिकारी बनाया गया है। जिले स्तर पर जिलाधिकारी की देख रेख में ही मुख्य चिकित्सा अधिकारी की ओर से सभी सूचनाएं शासन को उपलब्ध कराने का काम किया जायेगा। सीएमओ कार्यालय के टीकाकरण इकाई की देख-रेख में सूची तैयार होगी स्वयंसेवी संस्था यूएनडीपी से तकनीकी सहयोग लिया जा रहा है। संकलित की गयी समस्त सूचियों को कोविड वैक्सीनेशन बेनिफिशियरी मैनेजमेंट सिस्टम (सीवीबीएमएस) पर अपडेट किया जाएगा। जब टीका आएगा तो सूची के अनुसार टीकाकरण किया जाएगा।