ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
अवैध हथियार फैक्ट्री पर छापा, भारी मात्रा में पिस्टल और गोली बरामद
August 8, 2020 • परिवर्तन चक्र

झारखंड के गढ़वा जिले में गुप्त सूचना पर पुलिस ने छापेमारी कर मिनी गन फैक्ट्री का भंड़ाफोड़ करने में सफलता हासिल की है. पुलिस को चीन में बनी एक पिस्टल के साथ भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए. इसकी जानकारी शुक्रवार को एसपी श्रीकांत सुरेश राव खोत्रे ने दी. गढ़वा पुलिस ने पिछले कुछ दिन से अवैध हथियार के खिलाफ मुहिम चला रखी है.

एसपी श्रीकांत सुरेश राव खोत्रे ने बताया कि अवैध हथियार के कारोबार की गुप्त सूचना मिली थी. सूचना के आधार पर गढ़वा एसडीपीओ बाहमन टूटी के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया. इस टीम में सदर थाना प्रभारी के साथ इंस्पेक्टर लक्ष्मीकांत सहित उनके सहयोगियों को शामिल किया गया.

फिर सदर थाना के नवादा गांव के पप्पू चौधरी हथियार कारोबारी के घर छापेमारी की गई. छापेमारी के दौरान उसके घर से भारी मात्रा में अवैध हथियार, कारतूस बरामद किए गए. उससे कड़ाई के साथ की गई पूछताछ में कई अहम जानकारी उसने पुलिस को दी. एसपी ने बताया कि उसकी निशानदेही पर केतार थाना अंतर्गत बत्तोकला गांव राजकुमार विश्वकर्मा, नागेंद्र विश्वकर्मा और रमेश विश्वकर्मा के घर छापेमारी की गई. वहां अवैध हथियार बनाने के फैक्ट्री का खुलासा हुआ.

इसके बाद भवनाथपुर थाना अंतर्गत मकरी गांव में भी छापेमारी की गई. वहां की गई छापेमारी में अवैध हथियार बनाने के औजार के साथ शिव विश्वकर्मा की गिरफ्तारी की गई. उसके बाद पप्पू की ही निशानदेही पर अवैध हथियार बेचने में पार्टनर का काम करने वाला रंजन जायसवाल को भी गिरफ्तार किया गया.

एसपी ने बताया कि पुलिस ने दो दिन तक लगातार छापेमारी कर अवैध हथियार के कारोबार में शामिल रैकेट का भंडाफोड़ किया है. उधर पूछताछ में पप्पू ने स्वीकार किया है कि उसने राजधानी रांची, गढ़वा के अलावा यूपी और छत्तीसगढ़ में भी हथियार की खरीद बिक्री का नेटवर्क तैयार कर रखा था.