ALL ताजा खबरें राष्ट्रीय समाचार परिवर्तन चक्र स्पेशल शिक्षा समाचार दुनिया समाचार क्रिकेट समाचार मनोरंजन समाचार पॉलिटिक्स समाचार क्राइम समाचार साहित्य संग्रह
अगर आपके पास भी है LIC पॉलिसी तो आपके लिए राहत भरी खबर! 30 जून तक निकाल सकेंगे पैसा
June 9, 2020 • परिवर्तन चक्र

नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी LIC ने अपने बीमाधारकों को बड़ी राहत दी है। लॉकडाउन के बीच अपने बीमाधारकों की सुरक्षा को देखते हुए LIC ने मैच्योरिटी क्लेम की डेडलाइन को 30 जून तक बढ़ा दिया है। बीमा कंपनी ने मैच्योरिटी क्लेन की डेडलाइन को 30 जून के लिए बढ़ा कर बीमा धारकों को बड़ी राहत दी है। एलआईसी ने कोरोना के इस संकट में ग्राहकों को राहत देते हुए मैच्योरिटी क्लेम के नियमों को आसान करने के साथ-साथ इसे बढ़ाकर 30 जून कर दिया है। इसके लिए आपको एलआईसी ब्रांच जानें की जरूरत भी नहीं है। आप ऑनलाइन क्लेम कर सकते हैं। आइए इसके बारे में पूरा विस्तार से जानें....

LIC बीमा धारकों को मिली राहत

इटी नाउ की रिपोर्ट्स के मुताबिक अब बीमाधारकों को मैच्युरिटी क्लेम के लिए एलआईसी के ब्रांच जाने की जरूरत नहीं होगी। आप घर बैठे-बैठे इसे पूरी कर सकते हैं। एलआईसी ने मैच्युरिटी क्लेम की प्रक्रिया को ऑनलाइन कर दिया है, जिसमें आप अपनी पॉलिसी, केवाईसी डिटेल, डिस्चार्ज फॉर्म और अन्य जरूरी दस्तावेजों को स्कैन कर ईमेल के जरिए भेज सकते हैं।

30 जून कर कर सकते हैं क्लेम

एलआईडी द्वारा जारी सर्कुलर के मुताबिक बीमाधारक अपने मैच्युरी क्लेम को 30 जून तक पूरा कर सकते हैं। हालांकि आपको बता दें कि पॉलिसी मैच्युरिटी क्लेम से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान रखना भी जरूरी है। LIC के मुताबिक पॉलिसी की मैच्युरिटी क्लेम से पहले आप चेक कर लें कि आपकी पॉलिसी एक्टिव होनी चाहिए। आपकी पॉलिसी की कोई किश्त बकाया नहीं होनी चाहिए. पॉलिसी पर कोई लोन बकाया नहीं होना चाहिए। मैच्‍योरिटी क्‍लेम के मामले में पॉलिसी की मैच्युरिटी अमाउंट 5 लाख तक होनी चाहिए।

कैसे करें ऑनलाइन मैच्युरिटी क्लेम

ऑनलाइन मैच्युरिटी क्लेम करने के लिए आपको उसी ब्रांच में क्लेम करना होता है, जहां से आपने पॉलिसी खरीदी है। ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको एलआईसी को ईमेल के जरिए क्लेम करना होगा। इसके लिए आपको claims.bo@ licindia.com पर मेल करना होगा। आपको बता दें कि एलआईसी के हर ब्रांच का कोड अलग-अलग होता है, जो आपको LIC की वेबसाइट पर मिल जाएगा। इसके अलावा आपकी पॉलिसी के दस्तावेज पर भी एलआईसी ब्रांच नंबर लिखा होता है। क्लेम के साथ आपको सभी दस्तावेजों की स्कैन कॉपी भेजनी होगी। इसका साइज 3 एमबी से ज्यादा का नहीं होना चाहिए।