ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
आज के बदलते परिवेश में रेलवे सुरक्षा बल में भी बदलाव हो रहा है : अतुल कुमार श्रीवास्तव
September 14, 2020 • परिवर्तन चक्र

 

गोरखपुर 14 सितम्बर, 2020:  रेलवे सुरक्षा विषेष बल, द्वितीय वाहिनी, रजही कैम्प, गोरखपुर में 14 सितम्बर को रेलवे सुरक्षा बल की 546 महिला कान्सटेबल प्रषिक्षुओं के दीक्षात परेड समारोह का आयोजन किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त, रेलवे सुरक्षा बल, पूर्वोत्तर रेलवे श्री अतुल कुमार श्रीवास्तव ने महिला कान्सटेबल प्रषिक्षुओं के परेड का निरीक्षण किया तथा मार्च पास्ट की सलामी ली एवं प्रषिक्षण में उत्कृष्ट प्रदर्षन करने वाली 03 महिला प्रषिक्षुओं को पुरस्कृत कर सम्मानित किया। इस अवसर पर प्रधानाचार्य, प्रषिक्षण केन्द्र श्री ए.के.सिंह ने 546 महिला प्रषिक्षु आरक्षियों को ईमानदारी, समर्पण, कर्तव्यनिष्ठा एवं देष सेवा की शपथ दिलायी। 

प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त सह महानिरीक्षक, रेलवे सुरक्षा बल, श्री अतुल कुमार श्रीवास्तव ने रेलवे सुरक्षा बल तथा रेलवे सुरक्षा विषेष बल परिवार की तरफ से सभी प्रषिक्षुओं का इस परिवार में स्वागत करते हुए बधाई दी तथा कहा कि इस चयन हेतु समपूर्ण भारत से लगभग 70 लाख लोगों ने आवेदन दिया था जिनमें लगभग मात्र 8000 लोग चयनित हुए जिनमें आप भी है। इससे यह प्रमाणित होता है कि आप कड़ी मेनहत कर के आयी हैं तथा कड़ी मेनहत करके इस प्रषिक्षण को कोविड-19 जैसे विपरीत परिस्थितियों में सीमित संसाधनों के होते हुए भी सफलतापूर्वक पूर्ण किया। उन्होंने कहा कि आज के बदलते परिवेष में रेलवे सुरक्षा बल में भी बदलाव हो रहा है। इस बल में भी आई.टी एवं अन्य क्षेत्रों में आधुनिकीकरण हो रहा है। इन बदलाओं के साथ हमें अपडेट रहना है। 

श्री श्रीवास्तव ने कहा कि आपकी भूमिका एक सरकारी सेवक के रूप में बहुत महत्वपूर्ण हो जाती है। ऐसा कोई कार्य नहीं करना है जिससे कि आप पर कोई उंगली उठा सके। आप सच्ची श्रद्धा एवं कर्तव्यपरायणता के साथ देश सेवा भाव से यात्रियों एवं रेल सम्पत्तियों की सुरक्षा के लिय कृत संकल्प रहें। उन्होंने कहा कि ’’यषो लभस्व’’ का हमारा जो स्लोगन है इसमें हम अपने देश का यष बढ़ाने में अपनी भूमिका का निर्वहन करेंगे। मुख्य अतिथि ने सभी क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्षन करने वाली प्रषिक्षु जया मालवीय, अंतरंग विषय में उत्कृष्ट प्रदर्षन करने वाली प्रषिक्षु रीना धोसरिया एवं आउट डोर क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्षन करने वाली प्रषिक्षु रीना देवी यादव को पदक एवं प्रषस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया।

इसके पूर्व सभी का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कमाडिंग आफिसर, द्वितीय वाहिनी, रेलवे सुरक्षा विषेष बल श्री अनिरूद्व चैधरी ने कहा कि प्रमुख मुख्य सुरक्षा आयुक्त श्री अतुल कुमार श्रीवास्तव के मार्ग-दर्षन में कोविड-19 के इस विषम समय में इतिहास के सबसे बड़ी संख्या में महिला प्रषिक्षुओं को सफल प्रषिक्षण देने में हम सफल हो सके। उन्होंने सभी प्रषिक्षुओं के रेल परिवार का सदस्य बनने पर बधाई दी तथा इस प्रांगण का प्रधान सेवक होने के नाते सभी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया।

प्रधानाचार्य, प्रषिक्षण केन्द्र श्री ए.के.सिंह ने अपने सम्बोधन में कहा कि यहां के लिये आज का दिन सौभाग्य का दिन है कि आज 546 महिला प्रषिक्षु पासिंग आउट परेड में सम्मिलित हंै। इन्हें रेलवे बोर्ड द्वारा दिये गये निर्देषों के अनुसार आठ माह का सफल प्रषिक्षण दिया गया। इस आपदा के समय में सीमित संसाधनों में सफलतापूर्वक गुणवत्तापूर्ण प्रषिक्षण पूरा हुआ। ये प्रषिक्षु सैन्य बल में पारंगत होने के साथ आतंकवाद, नक्सलवाद आदि का मुकाबला करने में भी सक्षम है। इस अवसर पर प्रधानाचार्य श्री सिंह ने प्रषिक्षण रपट प्रस्तुत किया। श्री सिंह ने बल का पूर्ण परिचय कराते हुए प्रषिक्षुओं के उत्तरदायित्वों एवं उद्देष्य के विषय में बताया तथा प्रषिक्षुओं के उज्जवल भविष्य की कामना की। 

इस अवसर पर मुख्य सुरक्षा आयुक्त डा. एस.के.सैनी, वरिष्ठ मंडल चिकित्साधिकारी श्री फहीम अहमद, वरिष्ठ अधिकारी, रेलवे सुरक्षा बल एवं रेलवे सुरक्षा विषेष बल तथा उनके परिवार के सदस्य उपस्थित थे। इस दौरान सोषल डिस्टेंसिंग एवं कोविड-19 से बचाव हेतु निर्धारित सुरक्षा मानको का पालन किया गया।