ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
90 साल की महिला से बलात्कार, आरोपी गिरफ्तार
September 8, 2020 • परिवर्तन चक्र • दुष्कर्म

बुज़ुर्ग महिला उस शख्स की बातों में आ गई और उसके साथ रेवला खानपुर फार्म जा पहुंची. वहां वो शख्स एक वहशी दरिंदा बन गया. उसने महिला के साथ बेरहमी से बलात्कार किया. पुलिस ने आरोपी शख्स को गिरफ्तार कर लिया है 

-बुजुर्ग महिला को अपने साथ ले गया था आरोपी

-दूध वाले का इंतजार कर रही थी बुजुर्ग महिला

-रेप के दौरान महिला की जमकर पिटाई भी की

बाहरी दिल्ली में एक बुजुर्ग महिला के साथ हैवानियत का शर्मनाक मामला सामने आया है, जहां एक वहशी दरिंदे ने एक 90 साल की बुजुर्ग महिला के साथ बलात्कार की वारदात को अंजाम दे डाला. इससे पहले जब महिला ने विरोध किया तो आरोपी ने उसकी पिटाई भी की. पुलिस ने आईपीसी की संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है.

घटना नजफगढ़ के छावला इलाके की है. पीड़ित बुजुर्ग महिला के अनुसार शाम करीब 5 बजे वह अपने घर के बाहर दूध वाले का इंतजार कर रही थीं. उसी वक्त एक अनजान व्यक्ति ने उन्हें आकर कहा कि दूध वाला आज नहीं आया है और वो उन्हें दूध वाले के पास ले जाएगा. बुजुर्ग महिला उस शख्स की बातों में आ गईं और उसके साथ रेवला खानपुर फार्म जा पहुंची. वहां वो शख्स एक वहशी दरिंदा बन गया. उसने महिला के साथ बेरहमी से बलात्कार किया.

जब महिला ने अपना बचाव करना चाहा तो आरोपी ने उनके साथ मारपीट भी की. महिला दर्द से तड़पती रही और उस आदमी से रहम की भीख मांगती रही. पीड़ित महिला ने आरोपी से कहा कि वो उसकी दादी के उम्र की हैं, पर उसने उनकी एक न सुनी. महिला की चीख-पुकार सुनकर गांव के कुछ लोग मदद के लिए मौके पर जा पहुंचे और आरोपी को धर दबोचा. इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई.

पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. जिसकी पहचान 33 वर्षीय सोनू निवासी गांव रेवला खानपुर के रूप में हुई है. पुलिस ने महिला के बेटे को बुलाया और पीड़िता को अस्पताल भेजा. महिला का मेडिकल कराया गया. महिला की MLC रिपोर्ट से कई चोटों की जानकारी मिली है. महिला की मेडिकल जांच रिपोर्ट में उनके शरीर और गुप्त अंगों पर चोटों की बात दर्ज है.

पुलिस ने इस मामले में आईपीसी की धारा 376 / 323 के तहत FIR दर्ज किया है. घटना की जानकारी मिलने पर दिल्ली महिला आयोग की टीम पीड़ित महिला की मदद के लिए जा पहुंची. आयोग की अध्यक्षा स्वाति मालीवाल और मेंबर वंदना सिंह ने मंगलवार की शाम पीड़िता से उनके घर पर जाकर मुलाकात की. स्वाति मालिवाल ने कहा कि 6 महीने की बच्ची से लेकर 90 वर्ष की बुजुर्ग महिला तक कोई भी सुरक्षित नहीं है. बुजुर्ग महिला को न्याय दिलवाने की जंग में हम उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलेंगे.