ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
24 घंटे में 163 बार से ज्यादा हिली है दुनिया, 12 से अधिक देश कांपे
June 15, 2020 • परिवर्तन चक्र

पिछले 24 घंटों में धरती पर 163 से ज्यादा भूकंप आए हैं. ये सारे भूकंप रिक्टर पैमाने पर 3 की तीव्रता से ज्यादा के थे. इस भूकंपों से पूरी धरती हिली है. सबसे ज्यादा दिक्कत आई है इन 14 देशों को, जो बुरी तरह से कांपे हैं- भारत, जापान, अमेरिका, सोलोमन आइलैंड्स, इंडोनेशिया, चिली, बोलिविया, अर्जेंटीना, तुर्की, फिलिपींस, पेरू, टोंगा, रूस और ईरान.

इन देशों में रिक्टर पैमाने पर 4 की तीव्रता से ज्यादा के भूकंप आए. हालांकि, जानमाल के नुकसान की कोई खबर नहीं है. ये 163 भूकंप रिक्टर पैमाने पर 3 की तीव्रता से अधिक के हैं. 

पिछले 24 घंटों में सबसे बड़ा भूकंप तुर्की में आया. यहां 14 जून को 5.9 तीव्रता मापी गई. 24 घंटे बाद 15 जून को फिर तुर्की कांपा. इस बार भूकंप की तीव्रता थी 5.5. 

पिछले 24 घंटों में 5.5 तीव्रता से ऊपर के 2 भूकंप आए हैं. जबकि 9 भूकंप रिक्टर पैमाने पर 5 की तीव्रता से ऊपर के थे. वहीं, 4.5 तीव्रता के 25 भूकंपों ने कई देशों को हिलाया.

रिक्टर पैमाने पर 3 की तीव्रता के 77, 3.5 की तीव्रता के 52 और 4 की तीव्रता के 15 भूकंप आए. जिनमें एक दिन पहले गुजरात के भुज में आया भूकंप भी शामिल है.

पिछले 24 घंटे में 5 या उससे अधिक तीव्रता वाले भूकंप जिन देशों में आए हैं वो हैं- भारत, तुर्की, जापान, मॉरिशस, ईरान, रूस, सोलोमन आइलैंड्स और इंडोनेशिया. 

ये सभी देश रिंग ऑफ फायर के आसपास ही बसे हैं. रिंग ऑफ फायर वह जगह है जहां पर ज्वालामुखीय गतिविधियां बहुत ज्यादा होती हैं. साथ ही, इसी जगह पर धरती के नीचे टेक्टोनिक प्लेटों के बीच टकराव या दूरी बनती बिगड़ती है. 

इसी टकराव या खिंचाव की वजह रिंग ऑफ फायर के आसपास बसे देशों में भूकंप आते रहते हैं. भारत में भी कुछ दिनों से लगातार भूकंप के झटके आ रहे हैं, जिसकी वजह से भूविज्ञानी अलग-अलग भविष्यवाणियां कर रहे हैं. आशंकाएं जता रहे हैं. 

कोई कहता है कि भारत में कभी भी बड़ा भूकंप आ सकता है, कोई कहता है कि नहीं आएगा. सबकी अपनी स्टडी है लेकिन एक बात तो तय है कि धरती के अंदर बहुत ज्यादा गतिविधयां चल रही हैं.

साभार- आजतक