ALL क्राइम न्यूज स्वास्थ्य घरेलू नुस्खे उत्तर प्रदेश अध्यात्म कोरोना वायरस देश बलिया समाचार दुष्कर्म मनोरंजन
17 साल का इंटरनेशनल ठग पुलिस की गिरफ्त में, ऐसे लगाई लोगों को चपत
August 3, 2020 • परिवर्तन चक्र

अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, चीन, स्पेन जैसे देशों के नागरिकों के डेबिट और क्रेडिट कार्ड हैक कर ठगी करने वाले इंटरनेशनल ठग को पुलिस रिमांड पर नहीं ले पाई है. क्योंकि 10वीं कक्षा की मार्कशीट के मुताबिक उसकी उम्र 16 साल 9 महीने है, इसलिए उसे बाल सुधार गृह भेज दिया है.

राज्य साइबर सेल, जिला साइबर सेल और महाराजपुरा थाना की टीम ने 15 दिन तक होमवर्क करने के बाद साइबर ठग को पकड़ा. आरोपी बिट क्वाइन से डार्क नेट के जरिए अमेरिका, चीन, स्पेन ऑस्ट्रेलिया और अन्य देशों के नागरिकों के क्रेडिट और डेबिट कार्ड का डेटा खरीदकर उनके कार्ड हैक कर ई-कॉमर्स कंपनियों से खरीदारी करता था. उसके बाद महंगे ब्रांडेड सामान को कम कीमत पर वॉट्सएप के माध्यम से लोगों को बेच देता था. आरोपी ने 18 राज्यों में गैंग बना रखी थी. 

पुलिस की माने तो ठग और उसके साथी 10 महीने में डेढ़ करोड़ रुपये से अधिक की ठगी कर चुके हैं. पुलिस ने इसके पास से महंगे मोबाइल, ब्रांडेड सामान भी जब्त किया है. बताया जा रहा है कि इस ठग के पिता ठग भिंड में अध्यापक हैं इसका ग्वालियर के वायुनगर में मकान भी है. इस मकान में लग्जरी सामान लगा हुआ है. मकान में महंगा फर्नीचर लगा है. इसके अलावा ऐशो-आराम का सभी सामान है. 

पुलिस ने पूछताछ में ठग से सवाल किया कि उसने इतना पैसा, इतने कम समय में खर्च कैसे किये. आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह अपने दोस्तों के साथ गोवा, सिक्किम, मुंबई व दक्षिण राज्य में आधा दर्जन से अधिक स्थानों पर घूमने गया. एक ट्रिप पर 5 से 7 लाख रुपये खर्च होते थे.

इसके अलावा पुलिस ने बताया कि उसने सामान अपने दोस्तों के यहां डिलीवर कराया है. किसी को एसी चाहिए था, किसी को लैपटॉप तो किसी को मोबाइल, सभी को मनपसंद सामान ठग ने दिलवाया है. सोने के बिस्किट और क्वाइन भी ऑनलाइन खरीदकर बेचे.